ट्रैफिक पुलिस के लिए सिरदर्द बना ई चालान, गलत पते के चलते 28000 ई चालान लौटे वापस

संदीप कुमार।जबलपुर।

तहजीब और संस्कारों का शहर कहलाने वाले मध्य प्रदेश के जबलपुर में लोग कितना लापरवाह हैं। इसकी बानगी देखने मिली यातायात पुलिस की कार्रवाई में। जिसमें पता चला की 28 हजार से ज्यादा लोग ऐसे है। जो गलत पते पर गाड़िया सालों से दौड़ा कर ट्रैफिक नियमों का उल्लंघन कर रहे है। इन लोगों के रजिस्ट्रेशन में वाहन स्वामी के नाम तो दर्ज हैं,लेकिन पते गलत हैं,जिसकी वजह से ट्रैफिक पुलिस द्वारा यातायात नियमों के उल्लंघन करने पर भेजे गए ई-चालान वापस आ गए है।

दरअसल पिछले 13 महीने में आईटीएमएस यानी इंटेलीजेंट ट्रैफिक मैनेजमेंट सिस्टम की मदद से ट्रैफिक पुलिस ने 1 लाख 76 हजार वाहनों के ई-चालान जनरेट किए है,जिसमें से एक लाख 9 हजार लोगों ने चालान जमा नहीं किए है,जबकि 28 हजार से अधिक लोग ऐसे है,जिनके पते गलत होने की वजह से भेजे गए चालान वापस आ गए है,अब ट्रैफिक पुलिस ऐसे वाहन मालिकों का पता लगाने उन नंबरों की गाड़ियों को मैनुअली ट्रेस करने में जुट गई है।

पुलिस अधिकारियों की माने तो शहर में लोगों ने बड़ी संख्या में डीलर या व्यक्ति से वाहन तो खरीद लिए, लेकिन उसके बाद उनका रजिस्ट्रेशन नहीं कराया कराया भी तो घर का पता गलत लिखवा दिया गया। इसलिए अब ट्रैफिक पुलिस के अधिकारी गलत पता दर्ज करवाने वाले लोगों का पता लगाने परिवहन विभाग से पत्राचार कर उनका रजिस्ट्रेशन रद्द करने की तैयारी कर रहा है।