शहर में अमन चैन कायम रखने नहीं निकाला जाएगा ईद मिलादुन्नबी का जुलूस

जबलपुर | अयोध्या मामले को लेकर सुप्रीम कोर्ट का निर्णय आने के बाद औऱ कल मनाए जाने वाले मुस्लिम समाज के त्योहार ईद मिलाद उन नबी को लेकर कलेक्टर भरत यादव और एसपी अमित सिंह ने जबलपुर के कंट्रोल रूम में बैठक ली।बैठक में अधिकारियों ने मुस्लिम समाज और जनप्रतिनिधि संघटनों से चर्चा करते हुए बताया की अयोध्या मामले का जो निर्णय sc ने दिया है उसको लेकर किसी भी प्रकार का आयोजन,विजय जुलूस,पोस्टर,पटाखे पूर्णतः प्रतिबंधित आने वालों कुछ घंटों के लिए प्रतिबंध कर दिया है।कलेक्टर ने धारा 144 भी लागू की है जो कि अगले 48 घन्टे तक लागू रहेगी।हर घटना को लेकर जिला प्रशाशन मुस्तैद है।अगर कोई नियम विरुद्ध करता है तो उनके खिलाफ सख्त से सख्त कार्यवाही की जायेगी।एसपी अमित सिंह ने भी बैठक के दौरान बताया की मुस्लिम समाज के वरिष्ठजनों और मध्यप्रदेश मुफ़्ती ए आजम की सरपरस्ती में डॉ मुशाहिद रजा ने सार्थक पहल करते हुए अमन शांति कायम बनी रहे उसको लेकर अवाहम में संदेश दिया है कि जलसा जुलूस न निकालते हुए अपने घरों में ,मदरसों में मिलाद उन नबी मना कर एक मिशाल दे। और जलसा रद्द कर दिया गया।

वही बैठक में मौजूद कांग्रेस विधायक संजय यादव ने कहा कि जबलपुर हमेशा ही अमन शांति और गंगा जमुना तहजीब और भाईचारा से जाना जाता है और इस फिजा को आपसी भाईचारे को कायम रखते हुए एक मिशाल कायम करनी है। बैठक में मुस्लिम समाज के मध्य प्रदेश मुफ़्ती ए आजम की सरपरस्ती में आये डॉ मुशाहिद रजा ने कहा कि शहर में अमन शांति कायम रखने के लिए मुस्लिम समाज का कल होने वाले त्योहार मिलाद उन नबी पर जुलूस ए मोहम्मदी न निकालते हुए शहर और मुल्क में अमन शांति कायम रहे उसको देखते हुए प्रशाशन का सहयोग किया जाएगा।