आबकारी विभाग की अवैध शराब निर्माण के खिलाफ कार्रवाई, फैक्ट्री को किया आग के हवाले

जबलपुर, संदीप कुमार

तू डाल डाल तो मैं पांत पांत, कुछ ऐसी ही कहानी जबलपुर में शराब माफिया और आबकारी महकमे के बीच चल रही है। चलाक शराब माफिया से निपटने के लिए अब आबकारी महकमे की टीम ने जंगलों की खाक छानने का फैसला किया है। महकमे की टीम ने गधेरी के जंगलों में अवैध शराब निर्माण की खबर पर दबिश दी है।

टीम जंगलों का चप्पा चप्पा छानते हुए उस जगह पहुंच गई जहां बड़े पैमाने पर अवैध शराब बनाई जा रही थी। शराब निर्माण की बीच जंगल में लगी इस फेक्ट्री ने महकमे के लोगों को भी हैरत में डाल दिया। मौके पर मौजूद 25 ड्रामों में करीब 5 हजार किलो महुआ और लाहान मिला, जिससे यह अंदाजा लगाया जा सकता है कि कच्ची शराब कितने बड़े पैमाने में बनाई जा रही थी।

नियम के मुताबिक महकमे के लोगों ने सैम्पलिंग की और सारी फेक्ट्री को ही आग के हवाले कर दिया। इस दौरान बड़ी मात्रा में जहां कच्ची शराब जब्त की गई है वही चलाक शराब माफिया आबकारी महकमे के चंगुल से बचने में कामयाब रहा।