fake-sim-card-racket-busted-in-jabalpur

जबलपुर|  जबलपुर क्राइम ब्रांच ने फर्जी सिम का रैकेट चलाने वाले गिरोह का आज भंडाफोड़ किया है। पुलिस ने गौतम जी की मडिया के पास से चार आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से दो लैपटॉप, 500 चालू सिम, 300 बंद सिम और 10 मोबाइल जप्त किए हैं। आरोपी करीब 2 साल से इस फर्जी गोरख धंधे में लिप्त थे। आरोपी इन फर्जी सिम को एक्टिवेट कर मुंह मांगा पैसा भी कमाया करते थे।

क्राइम ब्रांच को मुखबिर से सूचना मिली की गढ़ा थाना की गौतम की मडिया के पास सौरव सेन नाम का एक युवक एक्टिवेट की गई सिम को बेच रहा है।सूचना के आधार पर क्राइम ब्रांच और संजीवनी नगर थाना पुलिस ने दबिश दी तो राजू के अलावा पुलिस को रविंद्र पटेल,विकास और एडमिन जेकप मिले।पुलिस ने चारों को गिरफ्तार किया। आरोपियों के पास से बीएसएनएल की सिम, मोबाइल और लैपटॉप भी बरामद किए। जबलपुर एसपी निमिष अग्रवाल ने बताया कि आरोपी अवैध सिमो को बेचने का काम बीते 2 सालों से कर रहे हैं।पुलिस आरोपियों से अब यह भी पूछताछ कर रही है कि आखिर बीएसएनएल की सिम इतनी बड़ी संख्या में कैसे आरोपियों तक पहुंच गई। एसपी यह भी अंदाजा लगा रहे हैं कि हो सकता है लोकसभा चुनाव में इन सिमों का उपयोग किया जा सकता था। फिलहाल पुलिस चारों आरोपियों को रिमांड में लेकर पूछताछ कर रही है और यह भी पता लगा रही है कि इस रैकेट में उनके साथ और कौन-कौन शामिल है।