यहां अलग अंदाज में साल 2022 की विदाई, बुजुर्गों का सम्मान किया, उनका आशीर्वाद लिया

आयोजक बोले - बुजुर्गों के सम्मान के साथ, गुजरते साल को विदाई और नए साल के स्वागत जैसा बेहतर मौका नहीं हो सकता।

Jabalpur News : साल 2022 विदा हो रहा है, पूरी दुनिया नए साल के जश्न में डूबने जा रही है जिसमें क्लब और होटल्स में लेट नाइट पार्टियां भी होंगी, लेकिन जबलपुर में अलग ही अंदाज़ में साल 2022 को विदाई दी गई। शहर के विजयनगर इलाके में आयोजित एक भव्य कार्यक्रम में 2 हजार से ज्यादा बुजुर्गों का सम्मान किया गया। बुजुर्गों को तिलक लगाकर, उन पर फूल बरसा कर उनका स्वागत किया गया और फिर उन्हें शॉल पहनाकर सम्मानित किया गया।

कार्यक्रम का आयोजन जबलपुर नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष कमलेश अग्रवाल ने किया, कमलेश ने कहा कि बुजुर्ग समाज की धरोहर हैं क्योंकि वही अपने अनुभव के साथ परिवारों और समाज को सही रास्ते पर बढ़ने का रास्ता दिखाते हैं लिहाजा बुजुर्गों के सम्मान के साथ, गुजरते साल को विदाई और नए साल के स्वागत जैसा बेहतर मौका नहीं हो सकता। बुजुर्गों को सम्मानित करने के साथ उन्हें भोजन कराया गया और मास्क भी दिए गए।

उन्होंने कहा कि हम हर साल 31 दिसंबर को बुजुर्गों का यशवंदन कार्यक्रम करते हैं, क्योंकि बिना बुजुर्गों के आशीर्वाद के हम कोई नया काम नहीं कर सकते, उन्होंने कहा कि जिस तरह से वृद्धाश्रम बढ़ रहे हैं वो दुःख की बात है , हम ये कार्यक्रम कर ये सन्देश देना चाहते हैं कि शहर में कोई भी वृद्धाश्रम ना हो सभी अपने बुजुर्गों का सम्मान करें।

 

 

जबलपुर से संदीप कुमार की रिपोर्ट