मंडी कर्मचारियों की गलती का खामियाजा भुगत रहे किसान, कलेक्टर को सुनाई पीड़ा

Farmers-suffering-the-mistake-of-the-Mandi-employees--complaint-to-collector

जबलपुर|  नई सरकार में भी किसानों को परेशान होने का सिलसिला लगातार जारी है। सालीवाड़ा मंडी में कर्मचारियों के भ्रष्टाचार कारणों के चलते जबलपुर कलेक्टर ने साली बड़ा कृषि उपज मंडी को बंद कर दिया। मंडी बंद होने के चलते अब किसानों की फसलों की तुलाई को भी बंद कर दिया गया है लिहाजा तुलाई ना हो पाने से अब सैकड़ों किसान परेशान हैं यही वजह है कि आज उप मंडी के आसपास रहने वाले किसानों ने कलेक्टर से मुलाकात कर उन्हें अपनी परेशानी बताई। 

सालीवाड़ा स्थित कृषि मंडी में कुछ दिनों पहले कर्मचारियों के द्वारा भ्रष्टाचार करने पर जिला कलेक्टर छवि भारद्वाज ने मंडी को ब्लैक लिस्टेड करते हुए उसे बंद कर दिया। नतीजन मंडी के बंद होने से किसानों की तुलाई का काम नहीं हो पा रहा है ऐसे में अब गांव से 15 किलोमीटर दूर सोसाइटी में जाकर किसानों को अपनी फसल तुलवाना पड़ रहा है। किसान राम बिहारी पटेल की मानें तो सालीबाड़ा उप मंडी में तुलाई के लिए सभी व्यवस्था है मुख्य सड़क मार्ग से 100 मीटर की दूरी पर ही मंडी होने से आवागमन का साधन भी वहां पर आसान है।इधर किसानों की समस्या को कलेक्टर छवि भारद्वाज ने गंभीरता से लिया और जिला नागरिक आपूर्ति अधिकारी को निर्देश दिए हैं कि किसानों की फसल संबंधी समस्या का जल्द से जल्द निदान करें। जिला नागरिक आपूर्ति अधिकारी ने मुँहास और तिलहरी में किसानों की फसलों के लिए तुलाई की व्यवस्था करने की बात कही है।