जबलपुर में LPG गैस सिलेंडर से गैस रिफिल करते समय लगी आग, एक के खिलाफ मामला दर्ज

मध्यप्रदेश के जबलपुर से इस वक्त की बड़ी घटना सामने आ रही है, जहां एक वाहन में अचानक से आग लग गई। कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। पढ़ें विस्तार से...

जबलपुर, संदीप कुमार | मध्यप्रदेश के जबलपुर से हाल ही में एक बड़ी खबर सामने आई है। बता दें कि जबलपुर के गढ़ा थाना अंतर्गत बुधौलिया हॉस्पिटल के पास और संजीवनी नगर पुलिस थाना से करीब 50 मीटर की दूरी पर एक मारुति वैन में LPG गैस सिलेंडर से गैस रिफिल करते समय आग लगने से क्षेत्र में अफरा-तफरी मच गई। जिसके बाद आनन-फानन में लोगों की मदद से आग को बुझाया गया है। वहीं, पुलिस ने गैस रिफिलिंग करने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार करते हुए मामला दर्ज कर लिया है।

यह भी पढ़ें – उत्कल एक्सप्रेस में यात्रा कर रहे 55 वर्षीय व्यक्ति की अचानक बिगड़ी तबीयत, सफर के दौरान हुई मौत; पढ़ें पूरी रिपोर्ट 

दरअसल, देर शाम गढ़ा पुलिस को सूचना मिली कि संजीवनी नगर पुलिस थाना से करीब 50 मीटर दूरी पर सुनील पटेल के द्वारा गैस रिफिलिंग का काम किया जाता है और एक मारुति वैन में गैस भरते हुए समय आग लग गई। जिससे इस भीषण आग से हड़कंप और भगदड़ मच गई और ओमनी मारुति वेन गाड़ी जलकर खाक हो गई। बताया जा रहा है कि अगर समय रहते अगर आग पर काबू नहीं पाया जाता तो बड़ा हादसा भी हो सकता था। आग लगने की सूचना मिलते ही पुलिस और दमकल विभाग की टीम मौके पर पहुंची। तब तक आग पर काबू पा लिया गया था।

यह भी पढ़ें – आखिर क्यूं उमा भारती ने कहा विदेशी शराब की दुकान मेरी रामभक्ति को चुनौती देती है 

फिलहाल, इस हादसे में कोई जनहानि नहीं हुई लेकिन नुकसान काफी हो गया। साथ ही दमकल विभाग द्वारा बताया गया है कि यह पूरा हादसा गैस रिफिलिंग करने के दौरान हुआ है। इस घटना के बाद एक बार फिर भीड़भाड़ वाले इलाकों में संचालित हो रहे गोदाम एवं अनैतिक कार्य सवालों के घेरे में हैं और प्रशासन के रहवासी इलाकों से गोदाम हटाने साथ ही गेस रिफिलिंग करने बालो पर कार्यवाही के निर्देश भी हवा हवाई नजर आ रहे हैं।

वहीं, अब इस अग्नि हादसे के बाद पुलिस की भूमिका पर भी सवाल खड़े हो रहे हैं क्योंकि पुलिस थाने के चंद कदमों की दूरी और रहवासी इलाके में कई दिनों से गैस रिफिलिंग का काम किया जा रहा था लेकिन इसके बावजूद भी पुलिस ने आज तक इन पर कार्रवाई करने की जहमत नहीं उठाई। अगर समय रहते अगर आग पर काबू नहीं पाया जाता तो गैस की टंकी फटने से एक भीषण हादसा भी हो सकता था। जिसका खामियाजा लोगों को अपनी जान देकर चुकाना पड़ता। वही पूरे मामले में गढ़ा थाना प्रभारी राकेश तिवारी का कहना है कि गैस रिफिलिंग करने वाले आरोपी सुनील पटेल को गिरफ्तार कर लिया गया है इसके खिलाफ विभिन्न धाराओं में मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है।

यह भी पढ़ें – Gold Silver Rate : सोना चांदी पुरानी कीमत पर, देखें ताजा भाव