कोरोना वायरस को लेकर MP में पहली FIR, जाने क्यों?

जबलपुर।संदीप कुमार। कोरोना वायरस के बढ़ाते प्रभाव के चलते एमपी सतर्क हो चला है।जबलपुर में चार मरिजों के कोरोना पॉजिटिव आने के बाद हड़कंप मचा हुआ है। वही इसको इसके संक्रमण को छुपाने को लेकर कानूनी कार्रवाई की जा रही है।लखनऊ में मशहूर सिंगर कनिका कपूर पर मामला दर्ज होने के बाद  कोरोना संक्रमण छुपाने के चलते जबलपुर के एक ज्वेलर्स शोरूम संचालक पर एफआईआर दर्ज कर ली गई है।एमपी में यह पहला मामला है जब कोरोना को लेकर किसी व्यक्ति पर एफआईआर की गई हो।

दरअसल,  कोरोना को लेकर मध्यप्रदेश से पहला मामला सामने आने के बाद प्रशासन द्वारा ये कार्यवाही सुनिश्चित की गई हेै।जबलपुर सुहागन आभूषण के संचालक मुकेश अग्रवाल के खिलाफ पुलिस ने ये एफआईआर दर्ज की है जिसमे उनपर धारा 188 समेत अन्य धाराओ के तहत अपराध पंजीबद्ध किया गया है। इसके साथ ही जिला प्रशासन द्वारा दो दिनो तक शहर को लाॅकडाउन करने के आदेश जारी कर दिए गए है ,, वही शहरी सीमा को सील करते हुए किसी भी तरह की बस परिवहन सेवा को आगामी आदेश तक पूर्ण रूप से प्रतिबंधित भी कर दिया गया है। एक और चिंता का विषय प्रशासन के लिए सामने आया है जहाॅ करीब 25 संदिग्ध मरीजो को जिला अस्पताल मे आईसोलट किया गया है। इनम से 22 संदिग्ध वो लोग है जो ज्वेलरी शाॅप मे काम किया करते थे। कलेक्टर भरत यादव ने कोरोना को लेकर पत्रकारवार्ता करते हुए सभी से संयम बरतकर सावधानी की सलाह दी है। वही संक्रमण को रोकने की दिशा मे क्वारेंटाइन सेंटर भी बना दिए गए है। कलेक्टर ने जानकारी देते हुए बताया कि विदेश से शहर पहुॅचने वाले सभी यात्रियो को सबसे पहले क्वारेंटाइन सेंटर भेजा जाएगा इसके बाद जब तक रिपोर्ट सामने नही आती उन्हे वही आईसोलेट किया जाएगा।