आयुष्मान योजना के नाम पर अस्पताल की ठगी, कार्ड होने पर भी ले लिए 50 हजार

जबलपुर| जबलपुर के इनफर्निटी हार्ट इंस्टिट्यूट अस्पताल में आयुष्मान कार्ड होने के बावजूद भी मरीज के परिजनों से 50,000 रु लेने का मामला सामने आया है।पूरे घटनाक्रम का खुलासा तब हुआ जब भोपाल स्थित आयुष्मान योजना कार्यलय से मरीज के परिजनों के पास योजना के संदर्भ में फोन आया। तब मरीज के परिजनों ने बताया कि जबलपुर स्थित इनफर्निटी हार्ट इंस्टीट्यूट अस्पताल प्रबंधन ने कार्ड होने के बावजूद उनसे 50000 रु लिए हैं। आज कटनी जिले के स्लीमनाबाद निवासी मोहम्मद सुबराती के परिजन आज जब रु वापस लेने अस्पताल प्रबंधन के पास पहुँचे तो उन्होंने रुपए देने से साफ इनकार कर दिया।इतना ही नहीं अस्पताल प्रबंधन ने सीसीटीवी फुटेज भी उस दिन के मिटा दिए हैं जिस दिन मोहम्मद सुबराती को अस्पताल में भर्ती किया गया था और प्रबंधन को 50000 रु दिए गए थे।मरीज के परिजनों ने अस्पताल के खिलाफ आज ओमती थाने में अपनी शिकायत दर्ज करवाई है।पीड़ित परिजनों की माने तो 27 दिसंबर को अस्पताल में मोहम्मद सुबराती को हार्ट की प्रॉब्लम के चलते भर्ती करवाया गया था। इस वजह से अस्पताल प्रबंधन ने ऑपरेशन के लिए 50000 रु की डिमांड की थी। परिजनों ने आयुष्मान योजना का कार्ड होने के बावजूद भी प्रबंधन को रुपए दे दिए बाद में जब भोपाल स्थित आयुष्मान योजना विभाग से इलाज संबंधित जानकारी ली गई तब पता चला कि मरीज के परिजन से जो रु लिए गए हैं वह पूरी तरह से गलत हैं।फिलहाल ओमती थाना पुलिस ने मरीज के परिजनों की शिकायत दर्ज कर जांच शुरू कर दी है। गौरतलब है कि हाल ही में कलेक्टर की जांच के दौरान यह खुलासा हुआ था कि आयुष्मान योजना के नाम से शहर के बहुत से अस्पताल गलत काम कर रहे हैं जिसके चलते कुछ अस्पतालों को चिन्हित कर उनके खिलाफ कार्यवाही भी की गई थी।अब देखना यह होगा कि इनफर्निटी हार्ट इंस्टिट्यूट अस्पताल के खिलाफ जिला प्रशासन यह मामला सामने आने के बाद क्या कार्यवाही करता है।