जबलपुर में जोरो पर चल रहा अवैध उत्खनन का खेल, प्रशासन की सख्ती पर सवाल

जबलपुर | 

जिला प्रशासन की लाख सख्ती के बाद भी जबलपुर में अवैध खनन का काम जोरो पर है। खास बात ये है कि इस अवैध खनन के विषय मे कलेक्टर भरत यादव को भी जानकारी है बावजूद इसके खननकर्ता खनन में लगे है। अवैध खननकर्ता दिन भर नर्मदा नदी से लगी रेत खदान में खनन करते है और फिर रात को बड़ी बड़ी मशीनों के माध्यम से रेत को डंफरो में भर कर शहर में लाया जाता है।

जानकारी के मुताबिक भेड़ाघाट के पास बिलखिरवा गाँव से लगी रेत खदान में दिन भर खुलेआम खननकर्ता रेत का अवैध खनन करते है और फिर रात को डंफरो के माध्यम से इसे लोड कर मुँह मांगे दामो में बेचा करते है।स्थानीय लोगों के मुताबिक रेत के इस अवैध खनन में खनिज विभाग सहित राजस्व और पुलिस विभाग भी शामिल है।इधर नर्मदा से लगी रेत खदानों में हो रहे खनन को लेकर जबलपुर कलेक्टर भरत यादव भी मान रहे है कि बिलखिरवा गाँव में स्थित रेत खदानों से अवैध खनन की लगातार शिकायत मिल रही है जिस पर अब सख्ती से न सिर्फ कार्यवाही की जाएगी बल्कि खननकर्ताओ को गिरफ्तार भी किया जाएगा।हम आपको बता दे कि जबलपुर में नर्मदा नदी में हो रहे अवैध खनन को रोकने के लिए वित्त मंत्री सहित प्रभारी मंत्री ने भी निर्देश दिए थे इसके बाद भी खनन होना जिला प्रशासन की कार्यवाही में सवालिया निशान उठाता है।