करोड़ो खर्च पर नहीं बिके PM आवास के मकान, अब बिल्डरों का फार्मूला अपनाएगा निगम

House-of-PM-housing-not-sold-at-crores-of-expenditure

 जबलपुर| प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत जबलपुर में करोड़ों रु खर्च कर सस्ते और अच्छे मकान बनाए गए पर इन मकानों के प्रचार प्रसार न होने के चलते मकान न के बराबर बिके है। इस समस्या से निजात पाने और बनाये गए ज्यादा से ज्यादा मकान को बेचने के लिए अब जबलपुर नगर निगम बिल्डरों की राह पर चलने की तैयारी कर रहा है।नगर निगम जबलपुर मकान की गुणवत्ता,खास सुविधाएं,सुंदर आवसीय परिसर के विज्ञापन देकर अब अपने मकानों को बेचेगा।

जबलपुर नगर निगम मार्केटिंग के जरिये प्रधानमंत्री आवास योजना के मकानों उनकी सुविधाओं का प्रसार प्रसार करते अब जल्द ही नज़र आएंगे। निगम अब जल्द ही आवास योजना के तहत बनाये जा रहे आवासों में दी जा रही सुविधाओं,परिसर की सुंदरता को लेकर शहरभर में विज्ञापन के जरिये प्रसार करेगा ताकि इन भवनों के लिए मध्यमवर्गीय लोगों को लुभाया जा सके।

दरअसल अभी तक निगम के बने आवासों के लिए मध्यमवर्गीय जनता आवेदन नहीं करती उसकी बड़ी वजह निगम के पूर्व के प्रोजेक्ट्स है जिनकी वजह से निगम अपनी साख नहीं जमा पा रहा था।जबलपुर नगर निगम कमिश्नर आशीष कुमार भी मान रहे है कि निजी बिल्डरों की तरह है हमने अच्छे और मजूबत मकान बनवाये है पर उन्हें लेने के लिए कोई आगे नही आ रहा है यही वजह है करोड़ों रु खर्च के बाद भी मकान नही बिक रहे है।अब नगर निगम निजी बिल्डरों की तरह इन मकानों को बेचेगा जिसके लिए होर्डिंग बैनरों में प्रचार प्रसार भी होगा।