जबलपुर : न्यू लाइफ स्पेशलिटी हॉस्पिटल अग्निकांड में 11 वीं के छात्र ने भी गवांई जान, उठी यह मांग

मृतक छात्र के पिता और दोस्तों ने न्यू लाइफ अग्निकांड के संचालकों पर एक्सिडेंटल डेथ की धाराएं लगाने का विरोध किया है। तन्मय के पिता अमन ने आरोपियों पर धाराएं बढ़ाने और उन्हें सख्त से सख्त सजा दिलवाने की मांग की है।

जबलपुर, संदीप कुमार।  जबलपुर के न्यू लाइफ स्पेशलिटी हॉस्पिटल अग्निकांड में मौत का शिकार हुए 8 लोगों में 11वीं का छात्र तन्मय विश्वकर्मा भी शामिल था। तन्मय की मौत के बाद उसका परिवार इस भारी सदमे से उबर नहीं पा रहा हैं। अपने पिता का इकलौता बेटा तन्मय बुखार के इलाज के लिए न्यू लाइफ हॉस्पिटल में एडमिट हुआ था जहां हुए अग्निकांड में उसकी मौत हो गई। अब परिजनों ने गुहार लगाई है कि दोषियों को किसी भी कीमत पर बख्शा नहीं जाए।

यह भी पढ़ें… फिर पटरी पर दौड़ेगी 14 महीनों से बंद जबलपुर-सिंगरौली इंटरसिटी ट्रेन

अस्पताल में आग लगने पर तन्मय ने अपने पिता को फोन कर जान बचाने की गुहार भी लगाई थी लेकिन जब तक पिता अस्पताल पहुंचते तब तक तन्मय के साथ पूरा अस्पताल ही ख़ाक हो चुका था। अग्निकांड में अपने इकलौते बेटे को खोने वाले तन्मय के पिता अमन विश्वकर्मा जबलपुर के एसपी ऑफिस पहुंचे। पिता के साथ तन्मय के स्कूल के साथी छात्र भी मौजूद थे। पिता अमन ने न्यू लाइफ अग्निकांड के संचालकों पर एक्सिडेंटल डेथ की धाराएं लगाने का विरोध किया है। तन्मय के पिता अमन ने आरोपियों पर धाराएं बढाने और उन्हें सख्त से सख्त सजा दिलवाने की मांग की है। परिजनों से मिले जबलपुर के एसपी ने मामले में गंभीरता से जांच और वैधानिक कार्यवाई का भरोसा दिलाया है।