जबलपुर : 15 से 18 उम्र के 93 हजार बच्चों को लगेगी कोरोना वैक्सीन

1 जनवरी से बच्चों का रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन शुरू हो जाएगा साथ ही वैक्सीनेशन के दिन उसी दिन ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन का भी विकल्प खुला हुआ है

जबलपुर, संदीप कुमार। केंद्र सरकार के निर्देश पर अब देश भर में 15 से 18 उम्र तक के बच्चो को वैक्सीन लगेगी, वेक्सीनेशन का काम 3 जनवरी से शुरू होगा, बात करे अगर जबलपुर जिले की तो यहाँ पर करीब 1 लाख 20 हजार बच्चे चिन्हित किया गया है जिनकी उम्र 15 से 18 साल की है, इसमें 93 हजार स्कूलों में पढ़ने वाले छात्र-छात्राऐं हैं, जबकि अन्य बच्चे शिक्षा से विमुख हो गए है, बच्चो को वेक्सीनेशन के लिए बड़े स्कूलों को ही जहाँ सेंटर बनाया जाएगा तो वही कम संख्या वाले बच्चों को मोबाइल वैन के माध्य्म से टीका लगाया जाएगा, स्कूली बच्चों को आईडी, आधार कार्ड, समग्र आईडी के माध्य्म से स्पॉट और ऑनलाइन दोनों तरह से रजिस्ट्रेशन होगा।

यह भी पढ़े… कोरोना ने बढ़ाई चिंता, सीएम शिवराज ने बुलाई अधिकारियों की बड़ी बैठक, हो सकता है बड़ा फैसला

जबलपुर जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ एस.एन दहिया की माने तो स्वास्थ्य विभाग ने स्कूल शिक्षा विभाग के साथ मिलकर प्राइवेट और सरकारी स्कूलों में पढ़ रहे 93 हजार छात्रों को वैक्सीन के लिए चिन्हित किया है, वहीं इस उम्र में स्कूल छोड़ने वालों की संख्या 30 हजार के लगभग है, ऐसे में जिले में करीब 120000 बच्चों को चयनित कर लिया गया है जिनके 3 जनवरी से वैक्सीन लगाने का काम शुरू कर दिया जाएगा।

यह भी पढ़े… Kanpur: पीएम मोदी की सभा में उपद्रव के इरादे से पहुंचे पांच सपा कार्यकर्ता हिरासत में

गौरतलब है कि कोरोनो की तीसरी लहर को देखते हुए स्कूली बच्चों को को-वैक्सीन लगाई जा रही है जिसके लिए डीसीजीआई ने मंजूरी दी है, दूसरा डोज 28 दिन के अंतराल पर बच्चों को लगेगा, जिले में 93 हजार स्कूली बच्चें हैं इस कारण स्कूलों को सेंटर बनाएंगे स्कूल की आईडी, वहां दर्ज उनके आधार या समग्र आईडी से रजिस्ट्रेशन किया जाएगा,साथ में अभिभावकों की सहमति पत्र देना जरूरी होगा, जबलपुर जिले में 1 जनवरी से बच्चों का रजिस्ट्रेशन ऑनलाइन शुरू हो जाएगा साथ ही वैक्सीनेशन के दिन उसी दिन ऑन द स्पॉट रजिस्ट्रेशन का भी विकल्प खुला हुआ है, परीक्षण में ये वैक्सीन पूरी तरह से सुरक्षित बताई गई है, 18 से ऊपर के लोगों को वैैक्सीन लगी है फिर भी वैक्सीनेशन के बाद बुखार की दवा भी दी जाएगी, इसके अलावा इमरजेंसी के लिए एम्बुलेंस भी उपलब्ध रहेगी।