जबलपुर: सरकारी जमीन कब्जा करने पर प्रशासन सख्त, 13 करोड़ की सरकारी जमीन को कराया मुक्त  

हिस्ट्रीशीटर अब्दुल रज्जाक के खिलाफ अवैध वसूली, बलवा कर मारपीट करना, आर्म्स एक्ट, वन्य प्राणी अधिनियम, हथियारों से लैस हो कर हत्या करना, धोखाधड़ी जैसे संगीन अपराध मामले दर्ज किए है।

जबलपुर, संदीप कुमार। हिस्ट्रीशीटर अब्दुल रज्जाक ने सिर्फ शहर ही नही बल्कि ग्रामीण क्षेत्रों में भी स्थित सरकारी जमीन पर कब्जा कर रखा था, अब्दुल रज्जाक ने नेशनल हाईवे NH-12A से गौर जमतरा के लिए जाने वाले रास्ते पर सीमेंट के पोल गाड़कर उसमें तार की फेंसिंग की और करीब ढाई एकड़ की शासकीय जमीन पर कब्जा कर रखा था। कब्जा की गई जमीन की कीमत करीब 13 करोड़ों रुपए से अधिक की बताई जा रही है। हिस्ट्रीशीटर अब्दुल रज्जाक ने जमीन पर अवैध कब्जा कर रास्ते को भी बंद कर दिया था।

यह भी पढ़े … Samsung Galaxy A73 की कीमत पर से हटा पर्दा, खरीददारी पर मिलेंगे कई ऑफर, जाने कीमत 

जबलपुर कलेक्टर डॉ. इलैयाराजा टी और पुलिस अधीक्षक सिद्धार्थ बहुगुणा के निर्देश पर नगर निगम, पुलिस और राजस्व की टीम ने हिस्ट्रीशीटर अब्दुल रज्जाक के खिलाफ अवैध वसूली, बलवा कर मारपीट करना, आर्म्स एक्ट, वन्य प्राणी अधिनियम, हथियारों से लैस हो कर हत्या करना, धोखाधड़ी जैसे संगीन अपराध मामले दर्ज किए है।

थाना बरेला अन्तर्गत ग्राम गुरैयाघाट में स्थित लगभग 13 करोड़ की सरकारी जमीन रकवा 1.072 हैक्टियर (2.5 एकड़) भूमि पर अवैध कब्जा कर सीमेन्ट के पोल गाड़कर, तार फैंसिंग कर अपने खेत में शामिल कर नेशनल हाईवे NH-12A से गौर जमतरा के लिए जाने वाले रास्ते को बंद कर रखा था। जबलपुर पुलिस के द्वारा प्रशासन और नगर निगम के साथ मिलकर संयुक्त कार्यवाही करते हुये कब्जा मुक्त कराया गया है।

यह भी पढ़े … महाराष्ट्र में मनसे की चेतावनी- मस्जिदों से हटाओ लाउडस्पीकर वरना करेंगे हनुमान चालीसा

विवाद होने की आशंका को ध्यान मे रखते हुये कार्यवाही के दौरान उप पुलिस अधीक्षक ग्रामीण अपूर्वा किलेदार, तहसीलदार श्याम चंदेले, नायाब तहसीलदार सुरेश कुमार सोनी,थाना प्रभारी बरेला जितेन्द्र यादव,चौकी प्रभारी गौर उप निरीक्षक टेकचंद शर्मा, खमरिया, रांझी,ग्वारीघाट थाना का बल एवं नगर निगम का अमला भी मौजूद रहा।