Jabalpur: 19 दिन बाद हुआ अंधे कत्ल का खुलासा, आरोपी बेटे ने शराब के लिए किया था पिता का खून

आरोपी (accused) पुत्र घटना के दिन अकेला घर से निकला और गांव से चंद दूरी पर बने शिव धाम मंदिर में सो रहे 75 वर्षीय पिता के चेहरे पर दनादन हथियार से हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया, आरोपी पुत्र को पुलिस ने 19 दिनों की कड़ी मशक्कत के बाद गिरफ्तार कर लिया है।

Jabalpur News

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर (jabalpur) में बीते दिनों बरेला के हिनौतिया में शिव मंदिर के सेवादार की हत्या का खुलासा बरेला पुलिस ने करते हुए मृतक के बेटे को गिरफ्तार (arrest) किया है। हत्याकाण्ड में पकड़ा गया आरोपी बेटा सेना में पदस्थ था। उस पर राइफल (rifle) चोरी करने का आरोप लगा हुआ है। इस पूरे प्रकरण में मृतक द्वारा 50 हजार रूपए अपने बेटे को नहीं दिए जाने की बात सामने आई है। आरोपी (accused) पुत्र घटना के दिन अकेला घर से निकला और गांव से चंद दूरी पर बने शिव धाम मंदिर में सो रहे 75 वर्षीय पिता के चेहरे पर दनादन हथियार से हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया, आरोपी पुत्र को पुलिस ने 19 दिनों की कड़ी मशक्कत के बाद गिरफ्तार कर लिया है।

यह भी पढ़ें… MP Weather Alert: मप्र में आज झमाझम के आसार, इन जिलों में भारी बारिश का अलर्ट

15 दिन पहले कुल्हाड़ी लेकर मारने पहुंचा था
जानकारी के मुताबिक आरोपी ने अपने पिता को बहुत पहले भी मारने का प्रयास किया था,आरोपी ने पुलिस को बताया कि पिता की हत्या के लिए उसने 15 दिन पहले प्रयास किया था,आरोपी अपने पिता पर कुल्हाड़ी से हमला करना चाहा परंतु वह उसमें सफल नहीं हो पाया था।

आरोपी बेटा शराब का था आदी
बरेला के हनोतिया भोई ग्राम में रहने वाले मृतक 75 वर्षीय गोपाल प्रसाद मार्को नौकरी से रिटायरमेंट होने के बाद गाँव के ही पास शिव धाम मंदिर बनवाया था, जहां पर रहकर वह पूजा पाठ करता था, परिवार के लोग उसे शिव धाम में ही भोजन ला कर दिया करते थे,बरेला पुलिस ने बताया कि मृतक गोपाल प्रसाद मार्को का 40 वर्षीय पुत्र कमलेश मार्को शराब पीने का आदी था उसने वारदात को अंजाम देने के 3 दिन पूर्व गोपाल प्रसाद मार्गो से भोपाल जाने के लिए 50 हजार रुपए की मांग की थी,पर पिता ने इतनी बड़ी रकम देने के लिए मना कर दिया था और वह इसी से आरोपी पुत्र नाराज हो गया था,बीते 7 व 8 जून की दरमियानी रात कमलेश हथियार लेकर शिव धाम मंदिर पहुंचा था जहां गहरी नींद में सो रहा पिता पर उसने धारदार हथियार से चेहरे पर हमला कर उसे मौत के घाट उतार दिया,वारदात को अंजाम देने के बाद कमलेश पिता के जनेऊ में बंधी हुई चाबी निकाली और वहीं पर रखी पेटी से 15 हजार रुपए निकालने के बाद घर पर आकर सो गया था।

ये भी पढ़ें… जेसीबी मशीन से टकराकर ट्रैक्टर ट्रॉली खाई में गिरी, नीचे दबकर चालक की मौत

वारदात के डेढ़ घंटे बाद पहुंचा मौके पर आरोपी
घटना की जानकारी दूसरे दिन सुबह परिजन और गांव वालों को लगी, कुछ ही देर में यह खबर आग की तरह पूरे क्षेत्र में फैल गई और घटनास्थल पर भीड़ जमा हो गई थी, वारदात को अंजाम देने वाला मृतक का पुत्र कमलेश करीब डेढ़ घंटे बादपुलिस के वरिष्ठ अधिकारीयो के साथ मौके पर पहुँचा इस दौरान आरोपी कमलेश भी पुलिस के साथ खड़ा था और कार्रवाई में सहयोग करवा रहा था।