जबलपुर-कलेक्टर की फटकार के बाद अधिकारियों और कर्मचारियों ने हाथों में थामा झाड़ू

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर कलेक्टर डॉ टी इलैयाराजा की फटकार के बाद 23 अप्रैल को जबलपुर कलेक्ट्रेट का नजारा बदला बदला सा नजर आया,  दरअसल 22 अप्रैल को कलेक्टर डॉ. टी इलैयाराजा द्वारा कलेक्ट्रेट में साफ-सफाई में लापरवाही और अव्यवस्थाएं देखकर अधिकारियों को जमकर फटकार लगाई गई थी, जिसके बाद शनिवार 23 अप्रैल की सुबह कलेक्ट्रेट में न सिर्फ कर्मचारी बल्कि अधिकारी भी सफाई करने में जुटे नजर आए।

यह भी पढ़ें… श्योपुर- बीजेपी MLA के बेटों के खिलाफ मामला दर्ज, वनकर्मियों से की थी मारपीट

 

गौरतलब है कि एक तरफ़ पूरे देश में स्वच्छता अभियान चलाया जा रहा है वही दूसरी तरफ़ जबलपुर के कलेक्ट्रेट में ही गंदगी का अंबार लगा है, लेकिन कलेक्टर की नाराजगी के बाद यहां-वहां हुई बेतरतीब पार्किग और गंदगी वाले स्थानों पर सफाई शुरू हो गई, खुद एसडीएम-तहसीलदारों की कोर्ट के अलावा अन्य विभागों के दफ्तर में भी साफ-सफाई अपर कलेक्टर विमलेश सिंह एवं अन्य अधिकारियों ने कराई।

बताया जा रहा है कि शुक्रवार को कलेक्टर में जगह जगह गंदगी का अंबार देखने के बाद सम्बंधित अधिकारी-कर्मचारियों को आदेश दिए थे कि सफाई करवाइए और श्रमदान भी करिए, जिसका असर शनिवार सुबह से ही नजर आया, शुक्रवार को कलेक्टर ने कल खनिज शाखा, आयुष विभाग, रजिस्ट्री दफ्तर के आसपास, वकीलों के बैठने वाले स्थान, कलेक्ट्रेट के बाहर चाय-पान के ठेले खड़े होने वाले स्थान का निरीक्षण किया था। इस दौरान सम्बधित विभागों में अनुपस्थित अधिकारी-कर्मचारियों को नोटिस भी देने कहा था। साथ ही कलेक्ट्रेट परिसर में यहां-वहां बैठ रहे स्टाम्प वेंडर्स को उनके निर्धारित स्थान पर और लोक सेवा केंद्र के आसपास हुई अव्यवस्था भी सुधारने कहा था। इसके चलते शनिवार सुबह से अपर कलेक्टर विमलेश सिंह सहित सम्बंधित विभागीय अधिकारी और कर्मचारी सफाई में जुटे नजर आए।