जबलपुर : रेत माफियाओं पर बड़ी कार्रवाई, 750 से भी ज्यादा हाईवा रेत जप्त, मचा हड़कंप

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर कलेक्टर डॉ इलैयाराजा टी के निर्देश पर बड़ी कार्रवाई की गई है, यह कार्रवाई खनिज विभाग, राजस्व और पुलिस विभाग की टीम ने संयुक्त रूप से की है, खनिज विभाग की इस कार्रवाई में  750 से भी ज्यादा हाईवा रेत जप्त की गई है।  खनिज विभाग और पुलिस के द्वारा संयुक्त रूप से की गई कार्रवाई के बाद माफियाओं में हड़कंप की स्थिति बनी हुई है।

यह भी पढ़ें…. MP School : माशिमं की बड़ी तैयारी, 10वीं के छात्रों के लिए तय हो सकते नए नियम, शासन को भेजा गया प्रस्ताव

बताया जा रहा है कि चिन्हित इलाकों में नर्मदा नदी से रेत उत्खनन पर रोक है उसके बावजूद जबलपुर और आस पास के इलाकों में रेत निकाली जा रही है और छुपाकर उन्हे स्टोर किया जा रहा है, मुखबिर से मिली सूचना के बाद प्रशासन ने छापामार कार्रवाई की, खनिज विभाग, राजस्व और पुलिस की संयुक्त टीम बनाकर की गई इस कार्रवाई में बड़ी सफलता हाथ लगी है, अवैध भंडारण की शिकायत पर  टीम बनाकर पाटन क्षेत्र के अलग-अलग स्थानों पर दबिश दी। खनिज विभाग के मुताबिक इटवा इमलिया गांव में शासकीय भूमि में लगभग डेढ़ सौ हाईवे रेत का भंडारण किया गया था जिसे जप्त करने की कार्रवाई की गई है। इसके अलावा पुलिस प्रशासन ने ग्राम बूढ़ी कोनी की शासकीय भूमि खसरा क्र. 123 के अंश भाग पर लगभग 100 हाइवा का अवैध भण्डारण पाया। ग्राम कोनी कलां मे दो अलग-अलग स्थान मे खसरा क्र. 03 एवं खसरा क्र. 5/1 पर लगभग 450 हाइवा रेत का भण्डारण। ग्राम सुरैया मे माताजी के मंदिर के सामने लगभग 20 हाइवा रेत। ग्राम देवरी स्थित धमनी मार्ग पर लगभग 20 हाइवा रेत। सभी स्थानों पर रेत खनिज जप्त कर ग्राम कोटवार की सुपुर्दगी मे दिया गया। अब खनिज विभाग अब यह जानकारी जुटाने में लगा हुआ है कि इतनी बड़ी तदाद में रेत भण्डारण करने वाले माफिया आखिर कौन है। फिलहाल इतनी बड़ी कार्रवाई के बाद रेत माफिया में हड़कंप मचा हुआ है।