जबलपुर : जीजा ने साले को उतारा मौत के घाट, बहन के प्रेम विवाह से नाराज था भाई

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। बहन की लव-मैरिज से नाराज होना और बहन को अपशब्द बोलना नाबालिग भाई के लिए जानलेवा बन गया, जबलपुर में एक जीजा ने ही अपने साले को मौत के घाट उतार दिया, दरअसल नाबालिग भाई बहन की लव मैरिज से नाराज था जिसके वजह से वह बहन और जीजा से लगातार बदतमीजी कर रहा था। उसने बहन के प्रति आपत्तिजनक एवं गंदे शब्दों का इस्तेमाल कर कई बार अपमानित किया। यह बात बहन द्वारा पति को बताए जाने पर उसने हत्या का प्लान बनाया।

यह भी पढ़ें…. MP : जब डायलिसिस करवाते हुए वेंटिलेटर पर मासूम ने काटा अपने जन्मदिन का केक

पुलिस के मुताबिक आरोपी जीजा अभिषेक मिश्रा ने पत्नी के नाबालिग भाई यानि की अपने साले को योजना के तहत बुलाकर धार जिले के विश्व प्रसिद्ध पर्यटन स्थल मांडू के कांकड़ा की गहरी खाई में 1000 फीट की उंचाई से फेंक दिया। साले की सुनियोजित हत्या करने के बाद जीजा अपने घर वापस चला गया। वारदात के 2 दिन कांकड़खेड़ा में मिली अज्ञात लाश की शिनाख्त गढ़ा क्षेत्र से लापता 16 साल के अतुल मिश्र के रूप में हुई। हत्या का संदेह होने पर गढ़ा पुलिस ने मामले की जांच शुरू की तो पता चला कि अतुल के जीजा अभिषेक मिश्र ने उसकी हत्या की है। गढ़ा टीआई राकेश तिवारी ने बताया कि गढ़ा क्षेत्र की रहने वाली महक (परिवर्तित नाम) ने कुछ साल पहले अभिषेक मिश्र के साथ प्रेम विवाह कर लिया था। बहन के घर से जाने के बाद छोटा भाई अतुल उससे नफरत करने लगा था और मोबाइल पर उसके लिए बेहद आपत्तिजनक एवं अश्लील शब्दों का प्रयोग करता था। महक ने भाई द्वारा किए जा रहे शब्दों के संबंध में अपने पति अभिषेक को बताया तो वह भड़क गया। अभिषेक ने अपने साले को बहला फुसलाकर अपने पास बुलाया और उसे पहाड़ी से फेंक दिया।

यह भी पढ़ें…. ICICI बैंक ने अपने ग्राहकों को दिया बड़ा फायदा, जमा किए गए रुपए पर मिलेगा ज्यादा ब्याज

 मां ने दहेज की बात कर दामाद पर लगाया था आरोप
अतुल की मां निर्मला मिश्र ने पुलिस को बताया था कि 11 जून को बेटा अतुल अपने जीजा अभिषेक मिश्र निवासी पीथमपुर से मिलने के लिए घर से निकला था। अभिषेक ने उसे मिलने के लिए बुलाया था। अभिषेक मिश्र ने हमारी बेटी से प्रेम विवाह किया था। शादी के बाद से अभिषेक और उसके परिजन दहेज की मांग कर परेशान करने लगे थे। निर्मला मिश्र के मुताबिक हमारे परिवार ने दहेज देने से साफ इंकार कर दिया था, जिसका बदला लेने के लिए अभिषेक ने सुनियोजित प्लान बनाकर बेटे की हत्या कर दी। पुलिस ने पड़ताल कर हत्या का राज खोल दिया।