जबलपुर : 8 लोगों की बलि लेकर नींद से जागा स्वास्थ्य विभाग, अब CMHO ने दिए जांच के आदेश

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर में सोमवार को दमोहनाका में न्यू लाइफ मल्टी स्पैशलिटी अस्पताल में हुए अग्निकांड में 8 लोगों ने अपनी जान गंवा दी वही 10 से ज्यादा लोग जिंदगी और मौत से जूझ रहे है, इस घटना के बाद जबलपुर सीएमएचओ डॉ रत्नेश कुरारिया ने शहर के निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम्स में जांच के लिए डाक्टर्स की टीम गठित की है, यह टीमें इन अस्पतालों में फायर सिस्टम, बिल्डिंग पर्मिशन, पार्किंग से लेकर तमाम प्रावधानों और नियमों के तहत अस्पताल चलाने के नियमों की जांच करेंगी। अफसोस की जो काम पहले किया जाना था वह काम अब इस भीषण हादसे के बाद किया जा रहा है, हालांकि कोरोना संक्रमण काल में भी शहर के कई अस्पतालों की शिकायतें डॉ रत्नेश कुरारिया के पास पहुंची थी लेकिन बजाए उन पर कार्रवाई के शिकायतकर्ता को ही चलता कर दिया गया था, वही जिस अस्पताल में आग लगने का यह हादसा हुआ इसकी भी शिकायत पहले भी कई बार सीएमएचओ तक पहुंची थी, लेकिन आखिर कार्रवाई किसके दवाब में और क्यू नहीं की गई यह सवाल खड़े हो गए है।

यह भी पढ़ें… जबलपुर : घायलों से मिलने पहुंचे साँसद राकेश सिंह ने कहा-अस्पताल हादसे के दोषियो पर होगी कठोर कार्यवाही 

फिलहाल अब शहर में इस हादसे के बाद डॉ रत्नेश कुरारिया ने निजी अस्पतालों और नर्सिंग होम्स के जांच के आदेश देते हुए टीम गठित की है, लेकिन जिन डाक्टर्स को टीम में जांच का जिम्मा सौंपा गय है, उनमें से ज्यादातर के खुद के निजी अस्पताल या नर्सिंग होम्स चल रहे है, ऐसे में इस जांच में भी कितना सच सामने आएगा यह सवाल खड़े हो गए है।

जारी आदेश

जबलपुर : 8 लोगों की बलि लेकर नींद से जागा स्वास्थ्य विभाग, अब CMHO ने दिए जांच के आदेश जबलपुर : 8 लोगों की बलि लेकर नींद से जागा स्वास्थ्य विभाग, अब CMHO ने दिए जांच के आदेश जबलपुर : 8 लोगों की बलि लेकर नींद से जागा स्वास्थ्य विभाग, अब CMHO ने दिए जांच के आदेश जबलपुर : 8 लोगों की बलि लेकर नींद से जागा स्वास्थ्य विभाग, अब CMHO ने दिए जांच के आदेश