जबलपुर : इधर मतदान अधिकारी उधर बनाया पूरक परीक्षा के लिए केंद्राध्यक्ष, एक साथ दो ड्यूटी

जबलपुर में पूरक परीक्षा के लिए नियुक्त केंद्राध्यक्षों और सहायक केंद्राध्यक्षों की ड्यूटी निर्वाचन कार्य के लिए भी लगा दी गई है।

मप्र निकाय चुनाव

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर में प्राचार्य एवं व्याख्याताओं को जिला निर्वाचन कार्यालय ने रेंडमाइजेशन के बाद मतदान अधिकारी बनाया उनको ही पूरक परीक्षा के लिए केंद्राध्यक्ष और सहायक केंद्राध्यक्ष बना दिया गया है। इससे ]अब इन कर्मचारियों और अधिकारियों के सामने विकट स्थिति बन गई है। इन दो दर्जन कर्मचारियों को माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की ओर से शुक्रवार को केंद्राध्यक्ष और सहायक केंद्राध्यक्ष भी बना दिया गया।

यह भी पढ़ें… भोपाल : राहगीरों को धमकाना गुंडों को पड़ा महंगा, पुलिस ने निकाला जुलूस

गौरतलब है कि पहले से ही तय कार्यक्रम के अनुसार माध्यमिक शिक्षा मंडल बोर्ड की ओर से हाईस्कूल और हायर सेकंडरी सर्टिफिकेट की पूरक परीक्षा के लिए तारीखें घोषित की जा चुकी है। लेकिन अब चुनाव की तारीखे घोषित होने के बाद ऐसे अधिकारी कर्मचारी दो ड्यूटी में फंस गए है जिनकी परीक्षा में भी ड्यूटी लगाई गई है और साथ ही चुनाव के लिए मतदान में भी, दरअसल स्कूल की पूरक परीक्षाएं 25 जून से शुरू हो रही हैं, जो 30 जून तक चलेंगी। 25 जून को ही त्रिस्तरीय पंचायत निर्वाचन के तहत पहले चरण के लिए मतदान होना है। करीब दो दर्जन प्राचार्य और व्याख्याताओं की डबल ड्यूटी लगाई गई है। इन सभी की पूरक परीक्षा केंद्रों के केंद्राध्यक्षों और सहायक केंद्राध्यक्षों के रूप में ड्यूटी हैं।वही इस सूची में शामिल करीब दो दर्जन नाम ऐसे हैं जो निर्वाचन प्रक्रिया के तहत भी नियोजित किए जा चुके हैं। फिलहाल अब कोई एक ड्यूटी निरस्त करवाने की कोशिश में यह अधिकारी, कर्मचारी लगे है।