जबलपुर| जबलपुर के रद्दी चौकी-मदार टेकरी सहित आसपास के इलाके में हुए उपद्रव के 24 घंटे बाद भी हालत बिगड़े हुए है, लिहाजा अभी भी कर्फ्यू लगा हुआ है हालांकि राज्य सरकार के दो मंत्री तरुण भनोत और लखन घनघोरिया की जिला प्रशासन के अधिकारियों के साथ हुई मीटिंग के बाद ये फैसला लिया है कि कर्फ्यू में तीन घंटे की छूट दी जाए। 

मुस्लिम समुदाय के साथ हुई बैठक के बाद वित्त मंत्री ने कहा कि मुख्यमंत्री के निर्देश पर हम मौके गए हुए थे।वित्त मंत्री ने मीडिया से बात करते हुए कहा कि जिला प्रशासन को निर्देश दिया गया है कि किसी भी बेकसूर के खिलाफ कार्यवाही नही होना चाहिए और न ही पुलिस की ज्यादती होना चाहिए। वही जो कसूरबार है उनको छोड़ा भी न जाए। वित्त मंत्री ने ये भी कहा कि अभी तीन घंटे के लिए कर्फ्यू में ढील दिया गया है और अगर सब कुछ सामान्य रहा तो आने वाले समय मे कर्फ्यू पर पूरी तरह से ढील दी जाएगी।इधर सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया का विवादित बयान सामने आया है।कल हुए उपद्रव को लेकर उन्होंने कहा कि नाफरमानी में बच्चो से अपराध हुआ है जो इस कानून को भी नही जानते और नेतृत्व विहीन उपद्रव था जिसकी जांच की जा रही है।