Jabalpur News : एक ही विकास कार्य के हुए 2 भूमिपूजन, श्रेय लेने का आरोप, जानें पूरा मामला

Jabalpur Bhumi Pujan News : जबलपुर में एक ही विकासकार्य के 2 भूमिपूजन होने से राजनीति ख़ासी गर्मा गई है, कांग्रेस की टिकट पर चुनकर आए महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू ने आज 67 लाख रुपयों की लागत से संस्कृत महाविद्यालय की नई बिल्डिंग निर्माण का भूमिपूजन किया। भाजपा पार्षदों के साथ नगर निगम के नेता प्रतिपक्ष कमलेश अग्रवाल ने भी इसका अब खुलकर विरोध जताया और कांग्रेस पर श्रेय लूटने की सियासत का आरोप लगा दिया।

दोबारा भूमिपूजन पर उठे सवाल

नेता प्रतिपक्ष का कहना था कि पहले ही 26 मई 2017 को भाजपा की महापौर स्वाति गोडबोले संस्कृत महाविद्यालय की बिल्डिंग का भूमिपूजन कर चुकी थीं और अब कांग्रेस के महापौर श्रेय लूटने की राजनीति कर रहे हैं। दमोहनाका में स्थित संस्कृत महाविद्यालय के भूमिपूजन स्थल पर एक बैनर लगाकर भी कांग्रेस पर निशाना साधा गया जिसमें दोबारा भूमिपूजन पर सवाल उठाए गए।

महापौर जगत बहादुर सिंह अन्नू की दलील थी कि ठेकेदार की लापरवाही से पुराना टेंडर रद्द हो गया था और अब कांग्रेस के स्थानीय विधायक विनय सक्सेना से मिली विधायक निधि की मदद से नया टेंडर जारी कर काम करवाया जा रहा है, महापौर ने कहा कि नगर पंडित महासभा के ही अनुरोध पर स्वास्ति वाचन के साथ नए सिरे से इस विकासकार्य का नया भूमिपूजन किया गया जिस पर भाजपा को आपत्ति नहीं होनी चाहिए। ऐसे में अब एक ही विकासकार्य के पहले भाजपा और फिर कांग्रेस के महापौरों द्वारा किए गए 2 भूमिपूजन पर शहर की राजनीति गर्मा गई है।
जबलपुर से संदीप कुमार की रिपोर्ट