Jabalpur News : डॉक्टर पर ‘खुशी’ छीनने का आरोप, पुलिस ने दर्ज की FIR

खुशी की मौत के बाद डॉक्टर ने उपचार संबंधी दस्तावेजों से छेड़छाड़ की और पूरे मामले को रफा-दफा करने की पुरजोर कोशिश की।

जबलपुर।संदीप कुमार। जबलपुर के स्टार हॉस्पिटल के डायरेक्टर डॉ राजीव जैन के खिलाफ पुलिस ने मामला दर्ज किया है। आरोप है कि डॉक्टर ने 13 साल की बच्ची खुशी के उपचार में लापरवाही बरती जिसके कारण उसकी मौत हो गई। पुलिस डॉक्टर की तलाश कर रही है।

Gwalior News : 420 की शिकायत पर विधायक बोले” मेरा क्या बिगड़ जाएगा, पुलिस करती है मेरी चौकीदारी’

मालवीय चौक के स्टार हॉस्पिटल संचालक और शिशु रोग विशेषज्ञ डॉ राजीव जैन के खिलाफ पुलिस ने आपराधिक मानव सहित अन्य धाराओं में मामला दर्ज कर लिया है। अस्पताल के संचालक पर बच्ची के इलाज में लापरवाही का आरोप है। लाङगंज थाने में यह मामला दर्ज किया गया है।

शादी से पहले लड़कियां भूल कर भी न करें ऐसी गलतियां, झेलनी पड़ सकती है बड़ी मुसीबत!

दरअसल जिला एफएसएल अधिकारी डॉ सुनीता तिवारी ने इस मामले में शिकायत दर्ज की थी कि डॉ राजीव जैन ने उनकी इकलौती बेटी खुशी के उपचार में लापरवाही बरती जिसके कारण उसकी मौत हो गई।

पुलिस मुख्यालय में बड़ा फेरबदल, IPS अधिकारियों के हुए तबादले

मामला 19 मई 2021 का है और डॉ सुनीता तिवारी की शिकायत पर विक्टोरिया अस्पताल के शिशु रोग विशेषज्ञों ने इस पूरे मामले की जांच की थी। सीएमएचओ डॉ रत्नेश कुरारिया ने दो शिशु रोग विशेषज्ञ डॉक्टर सीपी अरोरा और डॉक्टर के के वर्मा को यह जांच सौंपी थी जिसके बाद पुलिस ने मामला दर्ज किया। रिपोर्ट में यह सामने आया था कि 19 मई को डॉक्टर तिवारी की बेटी खुशी अस्पताल में भर्ती थी। खुशी जन्मजात बीमारी से पीड़ित थी। सुबह उसकी सेहत बिगड़ी लेकिन डॉ राजीव उसे देखने नहीं पहुंचे। इतना ही नहीं, उस समय वे अपने अस्पताल में नहीं बल्कि सुधा नर्सिंग होम में राउंड लगाकर वहां मरीजों को परामर्श दे रहे थे।

खुशी की मौत के बाद डॉक्टर ने उपचार संबंधी दस्तावेजों से छेड़छाड़ की और पूरे मामले को रफा-दफा करने की पुरजोर कोशिश की। खुशी की तबीयत जिस समय खराब हुई उसमें अस्पताल में एक भी डॉक्टर मौजूद नहीं था। डा. सुनीता तिवारी की शिकायत पर पुलिस ने अस्पताल के संचालक के खिलाफ धारा 304 ए, 465, 468 के तहत एफ आई आर दर्ज कर ली है।