Jabalpur News : पर्याप्त बारिश न होने से बने सूखे जैसे हालात, नाराज किसानों ने घेरा कलेक्ट्रेट

Amit Sengar
Published on -

Jabalpur News : प्रदेश में मानसून की बेरुखी से जहां किसान परेशान हैं तो अब बिजली कटौती भी किसानों के सामने एक बड़ी समस्या बनकर सामने आ रही है साथ ही फसलों के लिए नहरों से पानी नहीं मिलने से फसलें अब बर्बाद होने की कगार पर है। इसी प्रकार की अनेक समस्याओं को लेकर आज किसान संगठन के साथ जिले के कई इलाकों के किसान कलेक्ट्रेट कार्यालय पहुंचे और कलेक्टर कार्यालय में धरना देते हुए बिजली कटौती बंद करने के साथ-साथ नहरों में पानी पहुंचाने की मांग को लेकर धरना प्रदर्शन किया और ज्ञापन सौंपते हुए प्रशासन से साफ तौर चेतावनी दी है की यदि एक हफ्ते के अंदर नहरों को दुरुस्त नहीं किया गया।

यह है मामला

बिजली कटौती बंद करके किसानों को पर्याप्त बिजली नहीं दी गई तो किसान बड़ी संख्या में एक हफ्ते बाद हजारों की संख्या में एकत्रित होकर उग्र आंदोलन करेंगे। पानी बिजली की समस्या के साथ-साथ किसानों ने ज्ञापन के माध्यम से मूंग खरीदी के बाद किसानों के रुके हुए भुगतान को लेकर भी किसानों ने प्रशासन से मांग की है की जिन किसानों का भुगतान नहीं हुआ है, उनका भुगतान शीघ्र किया जाए।
किसानों ने प्रशासन को दी चेतावनी
जबलपुर जिले में 2 सप्ताह से बारिश नहीं हो रही है जिसके चलते धान, मक्का और सोयाबीन की फसल सूखने लगी है। हालांकि इस बीच बूंदाबांदी जरूर हो रही है लेकिन जिस तरह का पानी फसलों को चाहिए ऐसी बारिश नहीं हो रही है। किसानों का यह भी कहना है कि नहरें टूट चुकी है जिसके चलते खेतों तक पानी नहीं पहुंच पा रहा है ऐसे में हमें पानी खरीदने के लिए मजबूर होना पड़ रहा है। फिलहाल जबलपुर के किसानों ने जिला प्रशासन को 1 सप्ताह की चेतावनी दी है।
जबलपुर से संदीप कुमार की रिपोर्ट


About Author
Amit Sengar

Amit Sengar

मुझे अपने आप पर गर्व है कि में एक पत्रकार हूँ। क्योंकि पत्रकार होना अपने आप में कलाकार, चिंतक, लेखक या जन-हित में काम करने वाले वकील जैसा होता है। पत्रकार कोई कारोबारी, व्यापारी या राजनेता नहीं होता है वह व्यापक जनता की भलाई के सरोकारों से संचालित होता है। वहीं हेनरी ल्यूस ने कहा है कि “मैं जर्नलिस्ट बना ताकि दुनिया के दिल के अधिक करीब रहूं।”

Other Latest News