जबलपुर : पूर्व मंत्री हरेन्द्रजीत सिंह बब्बू पर लगाए लोगों ने गंभीर आरोप

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर शहर के हाथीताल इलाके की हाउसिंग बोर्ड सोसायटी में बने एक प्राचीन शिव मंदिर को तोड़े जाने का स्थानीय लोगों ने विरोध जताया है, क्षेत्रीयजन व हिंदूवादी संगठनों ने पूर्व मंत्री व पूर्व विधायक हरेंद्रजीत सिंह बब्बू पर जमीन पर कब्जा करने के नियत से मंदिर तुड़वाने के गंभीर आरोप लगाए है।

यह भी पढ़ें…. विजय जुलूस में चली गोली, एक की मौत, पुलिस ने किया मामला दर्ज

बताया जा रहा है कि हाथीताल स्थित प्राची शिव मंदिर और उसके पास लगे विशालकाय पीपल के पेड़ से क्षेत्रीय जनों की धार्मिक आस्था जुड़ी हुई है। कुछ दिनों पहले इस मंदिर को हटाने और पेड़ को काटने का प्रयास किया गया जिसके बाद स्थानीय लोगों ने इसका विरोध जताया तो उन्हे बताया गया कि यह जमीन पूर्व मंत्री व पूर्व विधायक हरेंद्रजीत सिंह बब्बू ने लीज पर खरीद ली है, लेकिन लोगों का आरोप है कि पूर्व मंत्री बब्बू इस जमीन पर कब्जा करना चाहते है और इसी कारण वह अपने रसूख के चलते लोगों को डरा धमका कर मंदिर को तोड़ना चाहते है। आरोप है कि पूर्व मंत्री को आवासीय क्षेत्र के लिए यहां लगभग दो हजार वर्गफुट की भूमि लीज पर आवंटित हुई थी, किंतु इनके द्वारा आवंटित की गई जमीन से ज्यादा अनाधिकृत रूप से फेसिंग कराई गई है। मंदिर तोड़ने के लिए क्षेत्रीय वासियों के ऊपर दवाब बनाया जा रहा था। सूचना पाकर हिंदूवादी संगठन पहुंचे और विरोध प्रदर्शन किया। वही मौके पर हंगामे की सूचना मिलते ही पुलिस भी पहुंची, पुलिस के समझाने के बाद लोग शांत हुए, उन्हे आश्वासन दिया गया कि मंदिर को कोई नुकसान नहीं पहुंचाया जाएगा, इसके साथ ही पेड़ काटने के लिए भी पहले अनुमति लेनी होगी। फिलहाल स्थानीय लोगों ने चेतावनी दी है कि वह किसी भी हाल में मंदिर टूटने नहीं देंगे।