तीनों युवकों को पुलिस ने किया गिरफ्तार, जानें क्या है मामला

युवती से नर्स की नौकरी लगाने के लिए मांगे 50 हजार रुपए

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर (jabalpur) नेताजी सुभाषचंद्र बोस मेडिकल कालेज़ मे तैनात सुरक्षाकर्मियों ने तीन युवकों को पकड़ा हैं, तीनों युवक नर्स की नौकरी लगाने को लेकर युवती से 50 हजार रुपए ले रहें थे। उसी समय सुरक्षागार्डों ने तीन युवकों को पकड़कर डीन ऑफिस ले गए। बाद मे तीनों ही युवकों को गढ़ा थाना पुलिस के हवाले कर दिया हैं।

यह भी पढ़े…नकली सीमेंट कारोबार पर पुलिस का छापा, 200 बोरी नकली सीमेंट के साथ दो व्यक्ति गिरफ्तार

बताया जा रहा हैं आरोपी युवती को नर्स का फ़र्जी नियुक्ति पत्र देकर 50 हजार रुपए लेने वाले थे कि पर उससे पहले सुरक्षा गार्डों के हाथ आरोपी चढ़ गए। सुरक्षागार्डों ने जिन तीन युवकों को पकड़ा हैं उनमें से भोपाल के दो और एक सिवनी का हैं। जानकारी के मुताबिक छिंदवाड़ा निवासी प्रियंका की कुछ दिन पहले सोशल मीडिया के माध्यम से आरोपियों से पहचान हुई थी।

यह भी पढ़े…IPS Transfer : मध्य प्रदेश में आईपीएस अधिकारियों के तबादले, यहां देखें लिस्ट

आरोपियों ने युवती से कहा कि हम आपकी मेडिकल कालेज़ मे नर्स की नौकरी लगवा देंगे उसके एवज मे 50 हजार रुपए देनें होंगे। प्रियंका छिंदवाड़ा से जबलपुर मेडिकल पहुँची इस दौरान सुरक्षागार्डों को आरोपियों पर शक हुआ जिसके बाद तीन युवक सुनिल पटेल, अजय पटेल और राजकुमार को पकड़ा और पूछताछ की। तीनों युवकों को पकड़ने के बाद सुरक्षा गार्ड मेडिकल कॉलेज के अधीक्षक डॉ अरविंद शर्मा के पास ले गए जहां आरोपियों के पास से प्रियंका के नाम का एक फर्जी नियुक्ति पत्र भी मिला। मुख्य आरोपी सुनील पटेल ने बताया कि सिवनी में रहने वाले आलोक कुमार के यंहा वह प्यून का काम करता था। उसी के कहने पर प्रियंका को नियुक्ति पत्र देने जबलपुर आया था।