सोशल पुलिसिंग में उतरी जबलपुर पुलिस, गरीब और निसहाय लोगों को खिलाएंगी खाना

जबलपुर। संदीप कुमार. कोरोना वायरस के चलते पूरे जबलपुर जिले में लॉक डाउन किया गया है ऐसे में सन्नाटा आगामी 26 मांर्च तक पूरे जिले में देखने को मिलेगा।इस दौरान वो लोग जो कि नर्मदा तट या बस स्टैंड में मांग कर खाना खाया करते थे उनको सबसे ज्यादा परेशानी झेलनी पड़ रही है।ऐसे में जबलपुर की सॉफ्ट पोलिसिंग सामने आई है। जबलपुर पुलिस ने तय किया है कि समाजसेवियों के साथ मिलकर वो भी गरीब और असहाय लोगों को खाना मुहैया कराएंगे।

एसपी अमित सिंह की है सोशल पुलिसिंग
जबलपुर एसपी अमित सिंह की माने तो बीते 56 घंटे से लॉक डाउन पूरा शहर है जिसके चलते वह लोग जो कि बीमार है गरीब है, अन साउंड है वो अपने एक दायरे में रहते है उन्हें खाना नही मिल पा रहा है।कुछ नर्मदा तट में भिक्षा मांगकर तो कुछ भंडारे की दम पर जीवन यापन करते थे उन्हें भोजन नही मिल रहा है उनके लिए अब जबलपुर पुलिस खाना खाने की मदद करेगी।

गरीबो की मदद के लिए पुलिस ने समाजिक संगठन से की मदद की अपील
एसपी ने सामाजिक संगठन से मिलकर गरीबो के लिए तब तक खाने की व्यवस्था करने की ठानी है जब तक लॉक डाउन रहता है।जबलपुर पुलिस की इस सोशल पोलिसिंग की अब लोग भी सराहना कर रहे है।गौरतलब है कोरोना वायरस के चलते जबलपुर में बीते 56 घंटे से लॉक डाउन की स्थिति बनी हुई है।