भू माफिया के विरुद्ध जबलपुर पुलिस ने शुरू की कार्यवाही, धोखाधड़ी के मामले दर्ज

जबलपुर। बरेला थाना पुलिस ने आज सूदखोरों के खिलाफ कार्यवाही करते हुए मामला दर्ज कर आरोपियों की तलाश शुरू कर दी है।बरेला निवासी मीनाक्षी राणा ने बरेला थाना प्रभारी को लिखित शिकायत में बताया कि बीते दिनों स्वयं का मकान बनाने हेतु ऐजेन्ट संगीता के माध्यम से नैनसी स्वामी व अनूप मिश्रा से बरेला में प्लाट नम्बर 3, 4, 5 जिसका कुल रकवा 3 हजार वर्ग फिट का था उसका विक्रय अनुबंध 10 लाख 25 हजार रूपये में दिसम्बर 2014 को रजिस्टर नोटरी के माध्यम से कराया था।उस प्लाट की अग्रिम राशि 5 लाख 50 हजार की राशि में से 5 लाख रूपये का एसबीआई बैंक का चैक   एवं 50 हजार रूपये नगद दिये गये थे। नैनसी स्वामी व अनूप मिश्रा ने रु लेने के बाद प्लाट को 1 साल के अंदर विकसित कर रजिस्टर्ड करने का अनुबंध किया था किन्तु एक वर्ष की अवधि के पश्चात भी दोनो के द्वारा विक्रय अनुबंध किये गये प्लाट को विकसित नहीं किया गया।मीनाक्षी राणा ने जब प्लाट को विकसित करने की बात कही तो दोने के द्वारा उससे और 2 लाख रूपये की मांग की। विश्वास न होने के कारण मीनाक्षी ने रु  नहीं दिये।कुछ दिनों पहले मीनाक्षी ने  2014 से 2017 तक की अवधि मे प्लाट विकसित नही करने पर 5 लाख 50 हजार रूपये की रकम बैंक ब्याज की दर से वापस मांगे परंतु उनके द्वारा लगातार रकम वापस करने का झांसा दिया जा रहा था। फरवरी 2019 में दोनों ने अपने कार्यालय एकता मार्केट गौर में बुलाकर मीनाक्षी से एक सादे पेपर पर उससे लिखवाकर हस्ताक्षर कराकर कहा गया कि आपका विक्रय अनुबंध निरस्त कर दूसरे व्यक्ति को प्लाट विक्रय कर आपकी रकम कों दो माह मे वापस कर रहें है । नैनसी स्वामी व अनूप मिश्रा द्वारा जालसाजी कर विक्रय अनुबंध कर अनुबंधित प्लाट एवं  उसके द्वारा दिये गये 5 लाख 50 हजार रूपये हड़पते हुये उसके साथ धोखधडी की गयी है। महिला मीनाक्षी राणा ने आज बरेला थाना में शिकायत दर्ज कराई जिसके बाद नैंसी और अनूप मिश्रा के खिलाफ  धारा 420 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर आरोपियों की गिरफ्तारी के प्रयास शुरू कर दिए है।इसके साथ ही थाना अधारताल और बेलबाग में भी सूदखोरों के खिलाफ मामले दर्ज किए गए है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here