जबलपुर : नेताजी सुभाषचंद्र मेडिकल अस्पताल में वार्ड में घुसे कुत्ते ने चबाई मरीज की उंगली

जबलपुर, डेस्क रिपोर्ट। जबलपुर के नेताजी सुभाषचंद्र मेडिकल अस्पताल एवं कॉलेज में लापरवाही का मामला सामने आया है, यहाँ इलाज के लिए वार्ड के अंदर भर्ती मरीज की उंगली कुत्ता चबा गया, जैसे ही घटना का पता अस्पताल प्रबंधन को चला हड़कंप मच गया, क्युकी कुछ दिन पहले की जबलपुर कलेक्टर टी इलैया राजा ने अस्पताल का दौरा कर प्रबंधन को कड़े निर्देश दिए थे, हालांकि घटना की जानकारी वर्ड में तैनात ड्यूटी डाक्टर को देने के बावजूद भी मरीज का इलाज समय पर नहीं किया गया, बाद में जब अधीक्षक तक बात पहुंची तो मरीज को इलाज मिला। पीड़ित 8 दिन पहले ही एक्सीडेंट में घायल होने के बाद इलाज के लिए मेडिकल में वार्ड नंबर 14 में भर्ती हुआ था।

यह भी पढ़ें…. भारत में Monkeypox की दस्तक! 5 साल की बच्ची में दिखे इस वायरस के लक्षण, जांच के लिए भेजे गए सैम्पल

बताया जा रहा है कि जबलपुर के नया गांव एमपीईबी गेट नंबर 7 निवासी 18 वर्षीय युवक प्रियंक मेहरा का कुछ समय पूर्व एक्सीडेंट हो गया था। युवक के हाथ का ऑपरेशन होना है जिसके चलते वह मेडिकल अस्पताल में भर्ती हुआ। प्रियंक वार्ड में अपने बेड पर लेटा हुआ था तभी एक आवारा कुत्ता बाहर से अंदर वार्ड में पहुंचा और युवक के हाथ पर झपटटा मारते हुए उसकी ऊंगली चबा गया। इसी बीच वार्ड में मौजूद अन्य मरीजों के परिजनों ने कुत्ते को बाहर भगाया। इस घटना के बाद प्रियंक के हाथ से खून की धार बह निकली, लेकिन कोई भी डाक्टर उसके इलाज के लिए नहीं पहुंचा, कुछ देर बाद वार्ड बॉय ने ही डाक्टर की भूमिका निभाते हुए प्रियंक की मरहम पट्टी की, इस बात की शिकायत जब अस्पताल अधीक्षक तक पहुंची तब कही जाकर डाक्टर प्रियंक का हाल चाल जानने पहुंचे, जहां यह घटना हुई है वही परिसर में बच्चा वार्ड और अन्य गंभीर बीमारियों के मरीजों का भी वार्ड भी है। अस्पताल के वार्ड में इस तरह आवारा कुत्तों के अंदर आकर मरीजों को घायल करने की घटना से मरीजों और परिजनों में दहशत का माहौल है।