जबलपुर : सूदखोरों से परेशान होकर महिला ने जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश

महिला को गंभीर हालत में निजी अस्पताल में किया गया भर्ती

जबलपुर, संदीप कुमार। प्रदेश में सूदखोरों से परेशान होकर आत्महत्या करने का मामले थम नहीं रहे हैं। इसी तरह का एक और मामला जबलपुर से आ रहा है जहाँ 50 वर्षीय महिला ने सूदखोरों से परेशान होकर जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की तब महिला को गंभीर हालत में निजी अस्पताल में भर्ती किया गया है जिसमें पता चला है कि वो सूदखोरों की प्रताड़ना से परेशान था, जिसके चलते ये कदम उठाया गया।

यह भी पढ़े…इंदौर : उषा ठाकुर ने पहले दिग्विजय सिंह पर कहा – No Comments और फिर मंत्रीजी ने उठा दिया ये बड़ा सवाल ?

हम आपको बता दें कि अधारताल थाना पुलिस ने पीड़िता की बेटी की शिकायत पर आरोपियों के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर जांच शुरू कर दी है, तब अधारताल कटरा निवासी 50 वर्षीय उमा रैकवार ने बताया कि कोरोना काल में उसका व्यापार बन्द हो गया था तब घर चलाने के लिए उसने मानसरोवर कालोनी निवासी सपना प्रजापति से 50000 और काकुल प्रजापति से 30000 रु लिए थे, दोनों ही महिलाओं ने 10% के ब्याज पर रुपए वसूलना शुरू कर दिया।

जबलपुर : सूदखोरों से परेशान होकर महिला ने जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश

यह भी पढ़े…Weather update: जानिए कब तक जारी रहेंगे सर्दी के तेवर ? क्‍या होता है पाला, कोल्ड- डे और सीवियर कोल्‍ड डे?

दरअसल, उमा रैकवार ने बताया कि सपना प्रजापति ने 50000 रु के एवज में जहां डेढ़ लाख रुपए वसूल चुकी है तो वहीं का कोकिल प्रजापति ने भी उससे अभी तक 60000 रु ले चुके हैं इसके बावजूद भी का कोकिला प्रजापति उससे 30000 रु और मांग रही है जबकि सपना प्रजापति की नजर उसके मकान पर है, साथ ही पीड़िता ने पुलिस को बताया कि सपना प्रजापति और काकुल प्रजापति ने उसे कई दिनों से परेशान कर रहे हैं, सपना ने रु वसूल करने के लिए जितेंद्र नाम के एक व्यक्ति को उनके घर भेजा जहां उसने गाली गलौज करते हुए धमकी दी, 11 जनवरी को भी सपना और कोकिल उसके घर पहुंचे थे और रुपए के एवज में मकान मांग रहे थे और जब पीड़ित महिला मकान देने तैयार नहीं हुई तो उसे धमकी देते हुए चले गए लिहाजा डरकर उमा रैकवार ने जहर खाकर आत्महत्या करने की कोशिश की फिलहाल पुलिस ने सपना और जितेंद्र को गिरफ्तार कर लिया है।