जंगल का अपना अलग कानून, यहाँ शेर, चीता रोटी नहीं बनायेगें- मंत्री विजय शाह

जबलपुर, संदीप कुमार। मध्य प्रदेश के वन मंत्री कुंवर विजय शाह जो कि हमेशा ही तेजतर्रार और विवादित बयान देते हैं, एक बार फिर उन्होंने कांग्रेस पर निशाना साधा है। जबलपुर अल्प प्रवास के दौरान मंत्री विजय शाह ने कहा है कि राष्ट्रीय स्वयं सेवक संगठन को आतंकवादी कहने वाले वह चाहे तो किसी भी चौराहे पर मुझसे बहस कर ले, मैं बता दूंगा कि उनके समर्थन से कौन-कौन से लोग आतंकवादी गतिविधियों में लिप्त हैं। अगर कांग्रेस ने आरएसएस को आतंकवादी घोषित कर दिया तो मैं राजनीति छोड़ दूंगा।

यह भी पढ़ें…. मध्यप्रदेश : प्रदेश में बिजली की नहीं कोई कमी- मंत्री प्रद्युम्न सिंह तोमर

वन मंत्री कुंवर विजय शाह अपने उस बयान को एक बार फिर दुहराया हैं जब उन्होंने राहुल गांधी के विवाह न करने पर कटाक्ष किए थे। वन मंत्री विजय शाह ने अपने बेटे का उदाहरण देते हुए कहां है कि मेरा बेटा अभी 29 साल का है, जब वह 50 साल का हो जाएगा और उसकी शादी नहीं होगी तो निश्चित रूप से कई तरह की बात उठेगी। कांग्रेस के राष्ट्रीय अध्यक्ष की दौड़ में मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह का नाम आने पर मध्य प्रदेश के मंत्री कुंवर विजय शाह ने कहा हैं बढ़िया है, उनका स्वागत है। पर जिस तरह से उन्होंने मध्यप्रदेश का बंटाधार किया था अब उसी तरह से देश का बंटाधार भी वह करेंगे, वन मंत्री ने कहा कि हमें कोई फर्क नहीं पड़ता राष्ट्रीय अध्यक्ष कौन बन रहा है। इधर हाल ही के दिनों में क्रूनो से लाए गए चीतों के सामने चीतल छोड़े जाने को लेकर बिश्नोई समाज ने अपनी नाराजगी जाहिर की थी, जिस पर भी वन मंत्री विजय शाह ने सफाई दी है, उन्होंने कहा कि जंगल का अपना कानून अलग होता है। क्योंकि चीता और शेर तो रोटी बनाने से रहें, इसलिए इस विषय में ज्यादा मैं कुछ नहीं कहूंगा। वाइल्ड लाइफ ही वाइल्डलाइफ को अपना शिकार बनाते हैं।