मंदसौर नपा सीएमओ के खिलाफ जारी हुआ गिरफ्तारी वारंट, भ्रष्टाचार का चल रहा मामला

मंदसौर। मध्य प्रदेश के मंदसौर नगर पालिका सीएमओ के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले गिरफ्तारी वारंट जारी हुआ है। मामला 2010-11 का है जब उनकी पोस्टिंग मंडला जिले में थी। सविता प्रधान ने ज़मानत के लिए जबलपुर हाईकोर्ट में याचिका लगाई है जिसपर आज सुनवाई होना है। 

दरअसल, सिवता प्रधान फिलहाल अवकाश पर हैं। वह क्लास वन अधिकारी हैं जिस वजह से उनके खिलाफ आर्थिक अन्वेषण ब्यूरो ने सीधे तौर पर मामला दर्ज नहीं किया है। ईओडब्ल्यू ने लोक अभियोजन की अनुमति के लिए एक पत्र लिखा था। लेकिन शासन की ओर से कोई जवाब नहीं मिला। जिसके बाद फिर मंडला कोर्ट ने संज्ञान लिया। कोर्ट ने 3 दिसंबर को CMO सविता प्रधान की ओर से दायर की गयी अग्रिम ज़मानत याचिका खारिज कर दी। उसके अगले ही दिन यानि 4 दिसंबर से CMO प्रधान अवकाश पर चली गयीं बुधवार को मंडला कोर्ट ने सीएमओ के खिलाफ गिरफ्तारी वारंट भी जारी कर दिया है।

हाईकोर्ट में सुनवाई

सूत्रों के अनुसार सीएमओ की गिरफ्तारी के लिए मंडला एसपी ने महिला पुलिस की टीम भी बना दी है। इधर सीएमओ ने अब जबलपुर हाईकोर्ट में अग्रिम ज़मानत के लिए आवेदन किया है। इस पर शुक्रवार को सुनवाई होना है. मंडला ईओडब्ल्यू निरीक्षक चरणजीत भांभी ने बताया कि सीएमओ के खिलाफ बुधवार को गिरफ्तारी वारंट जारी हो गया है.शुक्रवार को जबलपुर में अग्रिम जमानत याचिका पर सुनवाई है।