CM उलझन में पड़ना नहीं चाहते, युवाओं की तरह सोचें अधिकारी: मंत्री प्रियव्रत सिंह

minister-priyvrat-singh-took-meeting-in-jabalpur

जबलपुर। मध्य प्रदेश में कांग्रेस की सरकार बनने के बाद पहली बार प्रभारी मंत्री प्रियव्रत सिंह सोमवार को जबलपुर पहुंचे। इस दौरान उन्होंने कलेक्ट्रेट में सभी विभाग के अधिकारियों की मैराथन बैठक ली। अपनी पहली बैठक में ही प्रभारी मंत्री प्रियव्रत सिंह ने योजनाओं को सही ढंग से क्रियान्वयन करने के निर्देश दिए। बैठक में उर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह के अलावा वित्त मंत्री तरुण भनोत, सामाजिक न्याय मंत्री लखन घनघोरिया सहित कलेक्टर छवि भारद्वाज एसपी अमित सिंह और सभी विभागों के अधिकारी मौजूद रहे। जबलपुर में हुई पहली बैठक में ही प्रभारी मंत्री ने अधिकारियों को हिदायत देते हुए कहा कि सभी लोग अपने सोचने के तरीके को बदलें क्योंकि अब प्रदेश का कैबिनेट मंत्री का ग्रुप युवा है। 

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कमलनाथ सकारात्मक सोच के व्यक्ति हैं वह उलझन-सुलझन  में नहीं पड़ना चाहते हैं। इसलिए जो भी योजना जिन लोगों के लिए तैयार हो रही है वह उस आखिरी व्यक्ति तक पहुंचे।बात चाहे किसानों से जुड़ी योजना हो या फिर नए स्वरूप में आ रही कन्यादान की।वही गुलाबी फार्म को लेकर ऊर्जा मंत्री प्रियव्रत सिंह ने कहा कि जिन किसानों का नाम सूची में नहीं आया है या फिर वह किसान जिनके नाम के आगे ऋण की संख्या गलत लिखी  है उन्हें भी ठीक करने के प्रभारी मंत्री ने आदेश दिए है।