जबलपुर,संदीप कुमार। सचिन पायलट के ग्वालियर में चुनाव प्रचार करने पर चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने भी तंज कसा है। विश्वास सारंग ने कहा कि जिस प्रकार से मध्यप्रदेश में सचिन पायलट कांग्रेस के लिए प्रचार करने आ रहे हैं उससे साफ है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया के कद का नेता मध्यप्रदेश कांग्रेस में नहीं बचा है और कांग्रेस ने यह बात स्वीकार कर ली है।

मध्यप्रदेश में होने वाले उपचुनाव का सियासी पारा चुनाव की तारीखों के एलान के पहले ही चढ़ चुका है। दोनों ही दल के नेता एक दूसरे पर बयानबाजी से नहीं चूक रहे हैं। मध्यप्रदेश के ग्वालियर चंबल में सचिन पायलट और प्रियंका गांधी को स्टार प्रचारक बनाए जाने की खबरों के बीच, गृह मंत्री डॉ. नरोत्तम मिश्रा के बाद चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग ने भी तंज कसा है। मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि जिस प्रकार से मध्यप्रदेश में सचिन पायलट कांग्रेस के लिए प्रचार करने आ रहे हैं उससे साफ है कि मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान और ज्योतिरादित्य सिंधिया के कद का नेता मध्यप्रदेश कांग्रेस में नहीं बचा है और कांग्रेस ने यह बात स्वीकार कर ली है। चिकित्सा शिक्षा मंत्री ने कहा कि कांग्रेस के इस निर्णय से उन्हें आश्चर्य इसलिए भी नहीं होता है. क्योंकि जिस पार्टी में राष्ट्रीय अध्यक्ष ही इंपोर्टेड होगा तो स्टार प्रचारक भी इंपोर्टेड होगा।