अवैध संबंधों के चलते Murder, बेटे ने पिता को मारकर जंगल में जलाया

nephew-murder-three-including-uncle-and-aunt

जबलपुर, संदीप कुमार। बीते दिनों बरगी के जंगल में मिली अधजली लाश के मामले में नया खुलासा हुआ है। अधजली लाश सिवनी जिला के घंसौर थाना के अंतर्गत आने वाले बरोदा माल निवासी की निकली। पुलिस की जांच पड़ताल में सामने आया है कि अधेड़ की पहले हत्या (Murder) की गई थी बाद में उसे जंगल में फेंक दिया गया था। इस मामले में अवैध संबंधों का एंगल सामने आया है।

ये भी देखिये – लापरवाही पर गिरी गाज, SDM ने दिए 3 कर्मचारियों के वेतन काटने के निर्देश

बरगी पुलिस ने बताया कि पिता द्वारा अपनी पत्नी के साथ शारीरिक संबंध बनाते हुए प्रमोद नाम के युवक ने देख लिया था। इसके बाद गुस्साए प्रमोद ने अपने पिता को हमेशा के लिए रास्ते से हटाने की योजना बनाई। उसने अपने चार दोस्तों के साथ मिलकर पहले पिता की गला दबाकर हत्या की, उसके बाद पुलिस से बचने के लिए जंगल में लाश को जला दिया गया।

घटना के संबंध में बरगी सीएसपी रवि चौहान ने जानकारी देते हुए बताया कि सिवनी जिला के घंसौर थाना के अंतर्गत आने वाले बरोदा माल निवासी 45 वर्षीय सेल कुमार पटेल की बरगी थाना क्षेत्र के अंतर्गत गढ़ गोरखपुर के जंगल में अधजली लाश मिली थी। पुलिस ने घटना को गंभीरता से लेते हुए प्रारंभिक कार्रवाई के उपरांत घटना की गहराई से पड़ताल की गई।

जांच के दौरान पुलिस को मिले तमाम सुबूतों के आधार पर पुलिस टीम बीती रात घंसौर थाना अंतर्गत बरोदा माल पहुंची। पुलिस द्वारा मृतक के पुत्र 26 वर्षीय प्रमोद पटेल को अपनी गिरफ्त में लेते हुए इस पूरी घटना के संबंध में पूछताछ की। इसपर प्रमोद ने बताया कि घटना के एक सप्ताह पूर्व पिता को पत्नी के साथ शारीरिक संबंध बनाते हुए उसने देख लिया था, तभी से पिता को हमेशा के लिए इस रास्ते से हटाने की योजना बनाई थी। इस योजना में उसने गांव के ही रहने वाले राहुल नेमा, राहुल यादव, आयुष शर्मा एवं मनोज उर्फ पंडा बेगा को शामिल किया था।

योजना के अनुसार शैल कुमार पटेल को किसी बहाने से एक चार पहिया वाहन में बैठाकर ले जाया गया और फिर बरगी थाना अंतर्गत बीच रास्ते में वाहन को रोका गया। आरोपियों द्वारा पहले शैल कुमार को गांजा पिलाया गया जब उसको गांजे का नशा चढ़ा तो सभी ने उसकी गला दबाकर हत्या कर दी। बाद में पुलिस से बचने के लिए उन्होंने गढ़ गोरखपुर के जंगल में लाश को जला दी।

इस घटना के संबंध में सीएसपी रवि चौहान ने जानकारी देते हुए बताया कि पकड़े गए आरोपियों से पूछताछ करने पर यह ज्ञात हुआ कि मृतक के पुत्र द्वारा पिता को मौत के घाट उतारने के लिए आरोपियों से 50000 में सौदा हुआ था। इसमें से 15000 घटना के पूर्व दिए गए थे। शेष रकम काम होने के बाद दिए जाने की बात देने की बात तय हुई थी।