जबलपुर के निजी अस्पताल की लापरवाही, बिजली जाने से ऑक्सीजन सप्लाई हुई बंद, मरीज की मौत

मदन महल स्थित शुभम अस्पताल में अचानक बिजली चली गई और बैकअप ना होने के चलते न सिर्फ मरीजों से भरी लिफ्ट फस गई वही एक मरीज की मौत भी हो गई।

जबलपुर, संदीप कुमार। जबलपुर (Jabalpur) में कोरोना संक्रमण (Corona infection) से बचने के लिए जो मरीज निजी अस्पतालों में भर्ती हैं उनके साथ लगातार लापरवाही की घटनाएं सामने आ रही हैं, हाल ही में उखरी चौक स्थित गैलेक्सी अस्पताल में जहां अस्पताल प्रबंधन की लापरवाही के चलते 5 लोगों की मौत हो गई थी, तो वही आज एक बार फिर मदन महल स्थित शुभम अस्पताल में अचानक बिजली चली गई और बैकअप ना होने के चलते न सिर्फ मरीजों से भरी लिफ्ट फस गई वही एक मरीज की मौत भी हो गई।

यह भी पढ़ें…अस्पताल सील होने के बावजूद मरीजों का इलाज कर रहा था कोरोना पॉजीटिव डॉक्टर, कलेक्टर ने दिए एफआईआर के आदेश

अचानक गुल हुई बिजली मचा हड़कंप
जानकारी के मुताबिक मदन महल स्थित शुभम अस्पताल में शाम को अचानक ही बिजली चली गई जैसे ही बिजली गई तो लिफ्ट वही की वही फस गई, इतना ही नहीं, बताया यह भी जा रहा है कि बिजली जाने से बंद हुई ऑक्सीजन सप्लाई के चलते एक मरीज की मौत हो गई, हालांकि अस्पताल प्रबंधन मरीज की हुई मौत को स्वाभाविक मान रहा है।

50 से 60 मरीज अस्पताल में है भर्ती
बतादें कि मदन महल स्थित शुभम अस्पताल में घटना के समय करीब 50 से 60 मरीज भर्ती थे, जैसे ही अस्पताल में बिजली जाती है चारों तरफ हड़कंप मच जाता है आनन-फानन में अस्पताल प्रबंधन बिजली की व्यवस्था करने में जुट जाता है इस दौरान कुछ ही मिनट के अंतराल में दो से तीन बार बिजली गुल हो जाती है जिसके कारण अस्पताल प्रबंधन से लेकर मरीज और उनके परिजन भी सकते में आ जाते हैं।

यह भी पढ़ें…अपनी मरने की झूठी खबरों पर पूर्व विधायक नागर सिंह चौहान ने वीडियो जारी कर दिया जवाब

बिजली बैकअप की व्यवस्था पर थी कमजोर
अस्पताल में जैसे ही बिजली जाती है तुरंत जनरेटर भी चालू किया जाता है पर जनरेटर का इतना लोड नहीं रहता है कि वह अस्पताल के हर वार्ड तक बिजली पहुंचा सके, बताया जा रहा है कि सही समय पर बिजली ना हो पहुंचने के चलते एक मरीज को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा है, वही कुछ लोग लिफ्ट में भी फस गए थे। हालांकि अस्पताल प्रबंधन का मानना है कि बिजली गुल होने के चलते मरीज की जान नहीं गई है जबकि वह पहले से ही गंभीर था।

घटना की होगी अब उच्च स्तरीय जांच
पहले गैलेक्सी अस्पताल और उसके बाद अब शुभम अस्पताल, लगातार मरीजों के साथ हो रही इस तरह की घटना के बाद अब प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग ने एक बार फिर शुभम अस्पताल में हुई घटना के जांच के आदेश दिए हैं,बहरहाल आज की हुई इस घटना के बाद से मरीजों के दिल में भी अब निजी अस्पतालों में इलाज को लेकर डर समाने लगा है।