जबलपुर, संदीप कुमार| हाथरस कांड (Hathras Case) में पीड़ित परिवार के साथ ”नकली भाभी” बनकर रहने वाली डॉक्टर राजकुमारी बंसल (Dr Rajkumari Bansal) पर कल तक जहाँ कई आरोप लग रहे थे वही अब मेडिकल प्रबंधन अब उनके बचाव में आ गया है| साथ ही उन्होंने किसी तरह के एक्शन या नोटिस की बात को नकार दिया है। वही जबलपुर पुलिस ने भी हाथरस मामले में शामिल हुई डॉ राजकुमारी बंसल पर कार्यवाही करने से मना कर दिया है।

डॉ राजकुमारी बंसल मामले में एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा का कहना है कि जब तक उत्तरप्रदेश पुलिस इस मामले में हमसे मदद नही मांगेगी तब तक हम कुछ नही करेंगे।एसपी की माने तो कोई जानकारी अभी तक उत्तरप्रदेश पुलिस के द्वारा नही मांगी गई है।गौरतलब है कि डॉक्टर राजकुमारी हाथरस की पीड़ित परिवार के घर में कई दिन तक रहकर उन्हें राज्य सरकार व जिला प्रशासन के खिलाफ भड़काने का आरोप लगाती थी।

उन पर प्रदेश सरकार ने नक्सलियों से कनेक्शन होने का आरोप भी लगाया था. जिस पर उन्होंने नाराजगी जताई थी और कहा था कि मीडिया वाले कुछ बोल रहे हैं. सबूत हैं तो आरोप सिद्ध करके दिखाओ।