छह माह पूर्व हुए हत्याकांड का पुलिस ने किया खुलासा

जबलपुर।संदीप कुमार।

ग्राम बिलगड़ा में छह माह पूर्व हुई रामकुमार पटेल की हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है।हत्यारा मृतक का भतीजा निकला जिसने की जादू टोने की शक के चलते कुल्हाड़ी से रामकुमार की हत्या की थी।

हत्या का खुलासा करते हुए asp डॉ संजीव कुमार ने बताया कि 30 अगस्त 2019 को गौ मुख तिराहे के पास नाले में एक बुजुर्ग की रक्तरंजिश लाश मिली थी जिसकी शिनाख्त रामकुमार पटेल के रूप में हुई। मृतक के शरीर मे कई चोटे भी लगी थी। इस अज्ञात हत्याकांड के आरोपी पर एसपी अमित सिंह ने 10 हजार रु का ईनाम भी घोषित किया था।

पुलिस की जाँच में सामने आया कि एक साल पहले मृतक रामकुमार पटेल के बड़े भाई रामफल के लड़के मंजीत पटेल की मृत्यु हो गई थी और रामफल भी अक्सर बीमार रहता था। प्रदीप पटेल को शक था कि रामकुमार ने जादू टोना कर उसके घर मे ये सब किया है।इसके बाद से अक्सर रामकुंमार और प्रदीप के बीच विवाद होने लगा।पुलिस की पूछताछ में खुलासा हुआ कि प्रदीप ने ही कुल्हाड़ी से रामकुंमार की हत्या की थी।

आरोपी ने पुलिस को बताया कि 29 अगस्त की रात को प्रदीप गौ मुख तिराहे के पास खड़े होकर इंतजार कर रहा था।जैसे ही मृतक साइकिल से वहाँ पहुँचा तभी प्रदीप ने सिर,कंधे और पीठ पर कुल्हाड़ी से वार कर उसे घायल हालत में नाले में फेंककर कर भाग गया।फिलहाल छह माह बाद क्राइम ब्रांच और बरेला थाना पुलिस ने इस अंधे हत्याकांड का खुलासा कर दिया है।