पुलिस ने किया देविका हत्याकांड का खुलासा, पिता ही निकला अपनी बच्ची का हत्यारा

संदीप कुमार।जबलपुर

16 जनवरी को भैरव नगर पहले अपहरण और फिर उसकी हत्या के मामले की जबलपुर पुलिस ने गुत्थी सुलझा ली है।पुलिस ने 16 माह की बच्ची के हत्या के आरोप में पिता मोनू वाल्मीकि को गिरफ्तार किया है।16 माह की देविका की हत्या करने की वजह आरोपी का अपनी पति के चरित्र पर संदेश करना बताया जा रहा है।

देविका हत्याकांड का खुलासा करते हुए एसपी अमित सिंह ने बताया की आरोपी मोनू बाल्मीक को अपनी पत्नी के चरित्र पर हमेशा से ही शक रहता था।बताया जा रहा है कि जिस समय देविका अपनी माँ की गर्भ में थी उस समय मोनू 376 के मामले में जेल में सजा काट रहा था । आरोपी की अपनी पत्नी से हमेशा इस बात को लेकर विवाद होता था कि देविका उसकी बेटी नही है।

घटना वाले दिन भी आरोपी का अपनी पत्नी से विवाद हुआ इसी विवाद के चलते मोनू में देविका का गला दबा दिया।गला दबाते ही देविका शांत हो गई,मोनू को लगा कि देविका की मौत हो गई जिसके बाद आरोपी बच्ची को लेकर रात को ही सीधे अपने घर से निकला और पीछे की तरफ गया जहाँ बच्ची के शव को एक बड़े पत्थर से बांध कर कुँए में फेंक दिया।

इस वारदात को अंजाम देने के बाद मोनू घर आकर अपनी पत्नी को भी धमकाया और चुप रहने की धमकी दी।अगले दिन मोनू ने अपने घर में कुछ इस तरह का माहौल बनाया की किसी ने देविका का अपहरण कर लिया है।बहरहाल 16 जनवरी को हुई इस रहस्यमय हत्या का पुलिस ने खुलासा कर दिया है।पुलिस इस कैश को फ़ास्ट ट्रायल कोर्ट में पेश कर आरोपी को फाँसी की सजा दिलवाएगी।