कांग्रेस विधायक के खिलाफ याचिका दायर करना पड़ा महंगा, पार्टी ने किया निष्कासित

Pradesh-Congress-Committee-expelled-Jitendra-Awasthi-from-party

जबलपुर| कांग्रेस में रहकर, कांग्रेस पार्टी की मुश्किलें बढ़ाने वाले जबलपुर के कांग्रेस नेता जितेन्द्र अवस्थी पर पार्टी संगठन ने कार्रवाई की है|  प्रदेश कांग्रेस कमेटी के संगठन प्रभारी चंद्रप्रभाष शेखर ने जितेन्द्र अवस्थी को 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया है|  अवस्थी ने कांग्रेस पार्टी में रहते हुए, बरगी से कांग्रेस विधायक संजय यादव के खिलाफ हाईकोर्ट में चुनाव याचिका दायर की थी| 

अवस्थी ने विधानसभा चुनाव में अपना नामांकन स्वीकार ना होने पर राज्य निर्वाचन आयोग के साथ विधायक संजय यादव को भी पक्षकार बनाया था और उनका चुनाव शून्य घोषित करने की मांग की थी| हाल ही में जितेन्द्र अवस्थी की चुनाव याचिका पर जबलपुर हाईकोर्ट ने विधायक संजय यादव के खिलाफ नोटिस भी जारी किया है| ऐसे में पार्टी संगठन ने अवस्थी को पार्टी के खिलाफ काम करने और अनुशनसनहीनता का दोषी माना है और उन्हें 6 साल के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है| हांलांकि जितेन्द्र अवस्थी अब भी अपनी गलती मानने तैयार नहीं हैं| अवस्थी का कहना है कि हाईकोर्ट में याचिका दायर करना उनका संवैधानिक अधिकार है जिसके लिए हुआ, उनका पार्टी के निष्कासन रद्द किया जाना चाहिए| 

बता दें कि बीते विधानसभा चुनाव में जबलपुर की बरगी सीट से कांग्रेस के कई दावेदार थे, लेकिन पार्टी ने टिकट संजय यादव को दिया था| टिकट ना दिए जाने से नाराज़ एक कांग्रेस नेता जितेन्द्र अवस्थी ने बगावत कर निर्दलीय प्रत्याशी के रुप में पर्चा भरना चाहा था लेकिन उनका नामांकन मंजूर नहीं किया गया| चुनाव में कांग्रेस प्रत्याशी संजय यादव करीब 18 हजार वोटों से चुनाव जीत गए थे जिनके खिलाफ अब कांग्रेस के बागी प्रत्याशी की याचिका पर हाईकोर्ट ने नोटिस जारी कर जवाब तलब किए हैं। 2018 चुनाव में बरगी विधानसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी की प्रतिभा सिंह और कांग्रेस के संजय यादव के बीच मुकाबला था। जिसमें संजय यादव ने प्रतिभा सिंह को हराया था वहीं भाजपा प्रत्याशी प्रतिभा सिंह 2013 में कांग्रेस प्रत्याशी सोबरन सिंह को 7399 वोट से हराकर जीत दर्ज की थी।