नेता पुत्रों को टिकट के विरोध में प्रहलाद पटेल, बोले ‘ये फॉर्मूला कतई स्वीकार नहीं’

Prahlad-Patel

जबलपुर|  इंदौर लोकसभा सीट से ताई के नाम पर अब भी तलवार लटकी है | लेकिन सांसद प्रहलाद पटैल इस सीट से भाजपा की जीत के लिए आश्वस्त दिख रहे है। उन्होंने बयान दिया है कि इंदौर सीट से ताई या फिर जिस पर भी ताई याने सुमित्रा महाजन का आशीर्वाद होगा वही चुनाव जीतेगा। लोकसभा चुनाव को लेकर चल रही सियासी उठापठक पर सांसद प्रहलाद पटेल खुलकर बोले। हाॅट सीट बनी भोपाल लोकसभा सीट पर दिग्विजय सिंह के पूजा पाठ और कर्मचारिया से माफी मांगने पर पटेल ने जुबानी हमले बोले। 

दिग्विजय सिंह के मंदिरो मे पूजन पाठ को सांसद प्रहलाद पटेल ने पाखंड बताया और कहा कि ये समय आ गया है जब दिग्विजय सिंह को अपनी विचारधारा तय करनी चाहिए। जहाॅ तक कर्मचारियो से सार्वजनिक तौर पर माफी की बात है तो ऐसी आपराधिक गलती ही क्यों की जिसके लिए माफी मांगनी पड़े। हाल ही मे चर्चाओ मे आए नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव के बेटे की दावेदारी और फिर अपने दावेदारी वापस लेने के मामले मे भी सांसद पटेल बोलने से नही चूके।  उन्होेने कहा कि परिवारवाद को लेकर जो सख्ती पार्टी ने बरती है मैं उसके साथ हूॅ। अगर मेरे बाद मेरा बेटा चुनाव मैदान मे उतरे तो ये फाॅर्मूला कतई स्वीकार नही होगा।  न्याय योजना को लेकर एक बार फिर चर्चाओ मे आए राहुल गाॅधी पर भी सांसद पटेल ने निशाना साधा।  उन्होने कहा कि योजना के नाम पर गरीब को 72 हज़ार रूपए साल देना जुमला है। गाॅव का एक गरीब प्रतिदिन 200 रूपए की शराब पीता है ऐसे गरीब परिवार अगर प्रतिदिन मद्यपान करना बंद कर दे तो साल भर मे बचत कर राहुल गाॅधी को लौटा सकते है।