जबलपुर में होने वाले अर्ध कुंभ की तैयारियां जोरों पर

जबलपुर।
आगामी फरवरी माह में माँ नर्मदा के ग्वारीघाट तट में होने वाले अर्ध कुंभ को लेकर जिला प्रशासन और नगर निगम ने तैयारियां शुरू कर दी हैं पर इस तैयारी में रेलवे ने अपना रोड़ा अटका दिया है। ग्वारीघाट के पास नगर निगम प्रशासन द्वारा किए जाने वाले काम को रेलवे ने रुकवा दिया है।

रेल्वे के अधिकारियों का कहना है कि नगर निगम जिस जमीन में काम कर रहा है वह जमीन रेलवे की है लिहाजा उन्होंने इसके लिए कोई भी अनुमति नहीं ली जिसके चलते काम रुकवाया गया है। हालांकि मामला तूल पकड़ते देख रेलवे और निगम के अधिकारी अब आपसी सहमति से नर्मदा कुंभ को भव्य रूप देने की तैयारी शुरू कर दी है।जानकारी के मुताबिक सूचना मिलने पर रेलवे के इंजीनियर शाखा व आरपीएफ का दल मौके पर पहुँच कर नगर निगम से अनुमति पत्र मांगा और जब वह पत्र नही दे पाए तो उन्हें आरपीएफ ने वहां से खदेड़ दिया। दर्शल नगर निगम प्रशासन जमीन में समतलीकरण व साफ-सफाई का कार्य कर रहा था।

बताया ये भी जा रहा है कि निगम की तरफ से वहां मौजूद अधिकारियों ने अस्थाई कार्य करने की जानकारी डीआरएम व रेलवे अधिकारियों को निगम आयुक्त व कलेक्टर भरत यादव ने चर्चा के दौरान दे चुकी थी लेकिन रेलवे अधिकारियों ने लिखित अनुमति का पत्र मांगा यह पत्र निगम प्रशासन के पास मौजूद नहीं था। नर्मदा अर्ध कुंभ का आयोजन राज्य सरकार व शासन स्तर पर किया जा रहा है जिसमें जिला प्रशासन व संबंधित विभागों को जिम्मेदारी सौंपी गई है। बावजूद इसके रेलवे अधिकारी द्वारा परमिशन का आडांगा लगाया गया है।इधर प्रदेश सरकार के मंत्री लखन घनघोरिया भी मान रहे है कि अगर निगम रेल्वे से अनुमति नही ली है तो उन्हें लेना चाहिए पर नर्मदा कुम्भ को लेकर किसी भी तरह का व्यवधान नही आने देंगे।
संदीप कुमार जबलपुर