जबलपुर को फ़िल्म सिटी बनाने की तैयारी, भाजपा ने उठाये सवाल

जबलपुर। संदीप कुमार।
बुंदेलखंड में फ़िल्म बनाए जाने का एक क्रेज लंबे समय से चला पर अब महाकौशल में भी फ़िल्म सिटी बनाने को जोर दिया जा रहा है जिसको लेकर पर्यटन विभाग ने अपनी तैयारी भी शुरू कर दी है।पर्यटन विभाग ने करीब छह लाख रु खर्च कर फ़िल्म लाइन के जाने माने निर्माता-निर्देशक को जबलपुर आने का न्योता दिया है। हालांकि पर्यटन विभाग के इस कार्यक्रम पर भारतीय जनता पार्टी ने उंगुली उठाना शुरू कर दिया है।

टूरिज्म एवं प्रमोशन कौंसिल के सीईओ हेमंत कुमार ने बताया कि एक अच्छी फिल्म के लिए जो लोकेशन होना चाहिए वो सब कुछ जबलपुर में है यही वजह है कि फ़िल्म इंडस्ट्री के कई निर्माता निर्देशको को जबलपुर जिला फ़िल्म बंनाने के लिए पसन्द आ रहा है।मध्यप्रदेश पर्यटन विभाग ने करीब 26 निर्माता निर्देशको को जबलपुर बुलाया है जो कि यहाँ आकर अपनी फिल्म के लिए लोकेशन देखेंगे और कोशिश करेंगे कि वह जबलपुर में अपनी फिल्मों को तैयार करे।

पर्यटन विभाग का मानना है किबजबलपुर में फ़िल्म सिटी बनने से यहाँ के लोगो को न सिर्फ रोजगार मिलेगा बल्कि जबलपुर जिले का नाम देश मे होगा।पर्यटन विभाग करीब छह लाख रु इस कार्यक्रम को लेकर खर्च कर रहा है पर इस छह लाख में से पाँच लाख रु निर्माता-निर्देशको के आने जाने पर ही खर्च हो जाएगा जिस पर की भाजपा ने सवाल उठाना शुरू कर दिए है।पर्यटन विभाग के इस कार्यक्रम में भाजपा ने आपत्ति जताते हुए कहा है कि ये कार्यक्रम जबलपुर के लिए नही बल्कि अधिकारी अपने बच्चो और परिजनों के प्रमोशन के लिए ये सब कर रहे है।क्योकि फ़िल्म निर्माता-निर्देशक अगर जबलपुर आएंगे तो उनसे मिलने के लिए अधिकारियों के परिवार वाले ही सबसे आगे रहते है।