बारिश में खराब हुई धान को लेकर किसानो का प्रदर्शन, कलेक्टर ने दिया आश्वासन

जबलपुर| प्रदेश में हुई बेमौसम बारिश से अन्नदाता पर मानो चारों ओर से मुसीबतें उमड़ पड़ी हैं । जबलपुर जिले में भी धान की खरीदी के बीच बेमौसम हुई बारिश ने सैकड़ों किसानों को भारी नुकसान पहुंचाया है । इसी सिलसिले में किसान संगठनों के जुड़े प्रतिनिधि अपनी 11 सूत्रीय मांगों को लेकर आज जिले के कलेक्टर भरत यादव से मिलने पहुंचे और अपनी मांगों का ज्ञापन भी सौंपा। किसानों को मुताबिक जिले में लगभग सभी धान खरीदी केंद्रों में पर्याप्त व्यवस्था नहीं है, ऊपर से बारदानों की कमी ने धान के उपार्जन को प्रभावित किया है। एक और जहां धान खराब हो गई है वहीं उसकी खरीदी भी शासन नहीं कर रहा है। ऐसे में प्रदेश सरकार उन्हें हुए नुकसान की भरपाई भी करें।

किसानों ने यह भी बताया कि अब तक जिले के मात्र 20 प्रतिषत किसानों का ही धान उपार्जन हो पाया है । जबकि मात्र 15 दिन धान खरीदी के लिए शेष बचे हैं ऐसे में धान का उपार्जन निर्धारित तिथि में करना संभव नहीं है और इसकी अवधि भी बढ़ाई जाए। एक और महत्वपूर्ण मांग में किसानों ने यह बात कही है कि धान का भुगतान भी जल्द से जल्द किया जाए। पिछले साल जहाॅ धान के भुगतान में देरी हुई थी, वहीं कुछ किसानों का तो आज तक भुगतान नहीं मिल पाया है । ऐसे में खरीदी के साथ भी भुगतान की प्रक्रिया में तेजी लाई जाए । तमाम मांगों को सुनने के बाद कलेक्टर ने भी अपने स्तर से इन समस्याओं को दूर करने की बात कही है। कलेक्टर के मुताबिक इस बार जिले में 71 खरीदी केंद्र बनाए गए हैं जिनमें अब तक 11000 किसानों से 130000 टन धान की खरीदी की जा चुकी है वहीं किसानों के धान के नुकसान के लिए बीमा कंपनियों से बात की जा रही है ताकि शासन स्तर पर इस प्रस्ताव को भेजकर धान को हुए नुकसान का प्रस्ताव मंजुर कराया जा सके।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here