‘महाराष्ट्र घटनाक्रम’ के बाद बदले तेवर, मप्र में ‘सत्ता परिवर्तन’ के सवाल पर यह बोले राकेश सिंह

जबलपुर| प्रदेश मे सत्ता परिवर्तन या कह ले कि सरकार गिराने का दावा भाजपा के लिए काल्पनिक हो गया है। ये हम नही कह रहे बल्कि खुद भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष राकेश सिंह ने इस बयान को दिया है। महाराष्ट्र की तर्ज पर प्रदेश मे सत्ता परिवतर्न का जब सवाल उनसे पूछा गया तो उन्होने सवाल को ही काल्पनिक का दर्जा दे डाला। मीडिया से बातचीत के दौरान उन्होने कहा कि काल्पनिक सवालो पर क्या बात करे ? लाजमी है कि महाराष्ट्र की घटना से सबक लेकर प्रदेश भाजपा अब बेहद संभल कर चल रही है । सत्ता गिराने की बात तो दूर अब सत्ता परिवर्तन के सवाल को भी भाजपा प्रदेष अध्यक्ष ने काल्पनिक करार दे दिया है जिसके सियासी तौर पर कई मायने निकाले जा सकते है।

जबलपुर में मीडिया से बात करते हुए उन्होंने कहा कि देवेंद्र फड़वीस ने एक अच्छे मुख्यमंत्री के रूप में काम किया है। उनके रहते महाराष्ट्र विकास की और अग्रसर भी हुआ है पर अब जो भी फैसला आया वह संविधान सम्मत था| राकेश सिंह ने कहा कि हमें लगा कि बहुमत मिल सकता है तो हमने सरकार बनायी| लेकिन जब बहुमत नही था तो हमने इस्तीफा भी दिया| उन्होंने कहा कि हम अभी भी यही कहेंगे, कि महाराष्ट्र में भाजपा की सरकार ने विकास के ऐसे बहुत काम किये है जो पहले कभी नही हुए हैं। हम उम्मीद करते है की अब वर्तमान महाराष्ट्र सरकार भी ऐसे ही विकास के कार्य करेगी। 

कमलनाथ सरकार पर बरसे 

वही प्रदेश में लगातार बढ़ रही महंगाई पर राकेश सिंह ने कमलनाथ सरकार पर भी जम कर हमला बोला और आरोप लगाया की सरकार केवल विधायको को बचाने में लगी है। रेत के अवैध उत्खनन और गैर कानूनी काम चल रहे हैं यह बेहद दुर्भाग्यपूर्ण स्थिति है।प्रदेश अध्यक्ष ने कहा कि राज्य सरकार किसानो से किये गए वादों को भी पूरा नही कर सकी है।