राम मंदिर निर्माण अभियान की समीक्षा, देशभर में बनाए गए 44 महाप्रांत

जबलपुर, संदीप कुमार। राम जन्म भूमि निर्माण को लेकर तैयारियां तेज हो गई है। इसके लिए सभी हिन्दू संगठन एकजुट होकर संपर्क महाअभियान भी चला रहे हैं। इसी महाअभियान को लेकर विश्व हिन्दू परिषद के अखिल भारतीय संगठन महामंत्री विनायक राव देशपांडे जबलपुर पहुँचे और अभियान की समीक्षा की।

राम मंदिर निर्माण अभियान के लिए बनाए गए है 44 प्रांत
विश्व हिंदू परिषद के राष्ट्रीय संगठन महामंत्री और श्री राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण संपर्क महाअभियान के सह संयोजक विनायक राव देशपांडे आज जबलपुर पहुंचे जहां उन्होंने इस अभियान की समीक्षा की। इस दौरान पत्रकारों से रूबरू होकर उन्होने बताया कि राम मंदिर निर्माण अभियान के लिए पूरे देश में 44 महाप्रांत बनाए गए हैं। इस महाप्रांत को लेकर कई लक्ष्य भी तय किए गए हैं। उन्होंने कहा कि सभी प्रांत-जिले और ब्लॉक स्तर की बैठक संपन्न हो चुकी है जिसको लेकर जनता में जबरदस्त रुझान भी देखा जा रहा है।

संकल्प से आगे निकाला अभियान
राम मंदिर निर्माण अभियान के सह संयोजक विनायक राव देशपांडे की मानें तो राम मंदिर निर्माण को लेकर जो महासंकल्प लिया गया था वो सफल होता दिख रहा है। पूरे देश में 4 करोड़ गांवों में संपर्क किया जाने का लक्ष्य रखा गया था जो बढ़कर 5 करोड़ गाँव तक पहुंच जाएगा। उन्होंने बताया कि लक्ष्य के अनुरूप लोगों में राम मंदिर को लेकर खासा उत्साह देखा जा रहा है। हिंदू संगठनों ने 11 करोड़ परिवार से संपर्क स्थापित करने का लक्ष्य तय किया गया था जो कि बढ़कर साढ़े तेरह करोड़ पहुँचा है। वहीं अगर मध्य प्रदेश की बात की जाए तो यहां पर 50 हजार गांव में जाकर संपर्क करने का लक्ष्य रखा गया है।

राम मंदिर निर्माण को लेकर एकत्रित की जा रही राशि रहेगी सुरक्षित
विश्व हिंदू परिषद के अखिल भारतीय संगठन महामंत्री विनायकराव देशपांडे ने बताया कि राम मंदिर निर्माण को लेकर जो भी राशि आमजन से ली जा रही है वह पूरी तरह से सुरक्षित रहेगी और सही कामों में ही इसका उपयोग हो इसके लिए भी व्यवस्था की गई है। उन्होने बताया कि राम मंदिर निर्माण को लेकर जो भी राशि जमा होगी वह ऐप के माध्यम से होगी। उन्होने कहा कि राशि सुरक्षित रखने हेतु भारतीय स्टेट बैंक, बैंक ऑफ बड़ौदा और पंजाब नेशनल बैंक से अनुबंध किया गया है।

किन्नर भी राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण में दे रहे हैं अनुदान
इधर संत अखिलेश्वरानंद महाराज ने बताया कि श्री राम जन्मभूमि मंदिर निर्माण संपर्क महाअभियान में सिर्फ हिंदूवादी लोग ही नहीं बल्कि किन्नर समाज के लोग भी जुड़ रहे हैं। संत अखिलेश्वरानंद महाराज ने कहा कि राम मंदिर निर्माण को लेकर किन्नरों में भी उत्साह देखा जा रहा है। वहीं जबलपुर के कुछ मुस्लिम संगठनों ने भी इस महासंपर्क अभियान में अपना साथ देने की बात कही है।