जबलपुर, संदीप कुमार। कोरोना काल के दौर में लगातार संक्रमण बढ़ रहा है। जबलपुर में भी रोजाना कोरोना वायरस के पॉजिटिव मरीजों की संख्या में बढ़ोत्तरी हो रही है। शहर में में अब एक दिन में 100 से ज्यादा पॉजिटिव केस सामने आ रहे हैं, ऐसे में कोविड-19 को लेकर लोगो में दहशत है। लिहाजा अब हर व्यक्ति अपने घर मे कोरोना जांच के लिए मेडिकल इंस्ट्रूमेंट रख रहा है। ये वो मेडिकल इंस्ट्रूमेंट है जिससे कि ऑक्सीजन,पल्स, ब्लडप्रेशर या शूगर घर बैठे चेक किया जा सकता है। जबलपुर में अचानक ही मेडिकल इंस्टूमेंट की बिक्री में भी बढ़ोतरी हुई है। इधर डॉक्टर भी बताते है कि कोरोना संकट के समय इन मेडिकल इंस्टूमेंट को घर पर रखना काफी हद तक ठीक है।

कोरोना काल में पल्स ऑक्सीमीटर,थर्मामीटर,मर्करी थर्मामीटर की बिक्री में बढ़ोत्तरी
कोरोना वायरस के समय फैले संक्रमण के बीच मेडिकल शॉप में प्लस ऑक्सीमीटर ,इंफ्रारेड थर्मामीटर ,मरकरी थर्मामीटर की बिक्री में भारी बढ़ोतरी हुई है। आज हर व्यक्ति बुखार,प्लस,आक्सीजन चेक करने के लिए अपने घरों में मेडिकल इंस्ट्रूमेंट रख रहा है।

जबलपुर मेडिकल केमिस्ट ड्रग एसोसिएशन की माने तो कोरोना वायरस में बहुत बदलाव आ गया है जिले में तेजी से कोरोना के केस बढ़ रहे है लोगो मे जागरूकता का अभाव भी देखा जा रहा है जिस वजह से संक्रमण लगातार बढ़ रहा है।अब इस संक्रमण को देखते हुए बचाव के लिए लोगो पल्स ऑक्सीमीटर,इंफ्रारेड थर्मामीटर,मर्करी थर्मामीटर खरीद कर घरों पर रख रहे है क्योकि इन इंस्टूमेंट को घरों पर रखने से जरूरत पड़ने पर चेक किया जा सकता है।

जबलपुर में है पर्याप्त स्टॉक
मेडिकल ड्रग एंड केमिस्ट संघ के मुताबिक जबलपुर में पल्स ऑक्सीमीटर,थर्मामीटर की बिक्री में तेजी से बढोत्तरी हुई है। आज हर घर मे इन मेडिकल इंस्ट्रूमेंट को जरूरत के हिसाब से रखा जा रहा है। लगातार जरूरतों को देखते हुए जबलपुर के मेडिकल स्टोर में पर्याप्त मात्रा में उपलब्धता भी की गई है। हालांकि ये भी देखा जा रहा है कि कुछ इंस्ट्रूमेंट घटिया क्वालिटी के भी बाजार में बिक रहे हैं जिसे लेकर ड्रग एसोसिएशन ने आम जनता को सलाह दी है कि आक्सोमीटर खरीदने से पहले उसकी गुणवत्ता जांच लें।

थोक-फुटकर मेडिकल बाजार में पर्याप्त इंस्ट्रूमेंट उपलब्ध
जबलपुर की थोक एवं फुटकर दवा बाजार में कोरोना संक्रमण को देखते हुए ऑक्सीमीटर,थर्मामीटर की मांग भी खूब है इसके लिए मेडिकल स्टोरों में पर्याप्त व्यवस्था भी की गई है। इंस्टूमेंट आज मेडिकल बाजार में पर्याप्त मात्रा में उपलब्ध किए गए है।

कोरोना वायरस संक्रमण को देखते हुए डॉक्टरों ने दी सलाह
कार्डियोलॉजिस्ट के मुताबिक घर पर कोरोना संक्रमण को देखते हुए लगातार परिवार वालो में निगरानी रखें। खास तौर पर बच्चे और बुजुर्गों का समय समय पर प्लस, बुखार और ऑक्सीजन चेक करते रहे। अगर सेच्यूरेशन 90 % के नीचे जा रहा है तो तुरंत ही नजदीकी डॉक्टरों से मुलाकात करे,वही अगर किसी को बुखार आता है तो उसे आम बुखार न समझे और उसका सही ढंग से चेक करवाने के बाद उसका नियमित ढंग से ईलाज भी करवाए। इसके अलावा ब्लड प्रेशर घर पर चेक किया जा सकता है पर किसी भी तरह से कोरोना को अनदेखा न करे क्योकि अभी तक यही देखा गया है कि जिन भी लोगो मे कोरोना को अनदेखा किया है या फिर उन्हें कोई दूसरी बीमारी है तो मौत भी उनकी ही हुई है।