तेंदुए की दहशत के बाद जागा वन अमला, कान्हा की टीम के साथ तलाश जारी

जबलपुर। जबलपुर में बीते कुछ दिनों से शहर के रामपुर इलाके में लगातार तेंदुए की दहशत देखी जा रही थी। वन विभाग तेंदुए को तलाश भी कर रहा था पर उन्हें इस पर कामयाबी नहीं मिली। इधर कल नया गांव में स्थानीय लोगों के द्वारा तेंदुआ का बनाया गया वीडियो सोशल मीडिया में खूब वायरल किया गया। जिसके बाद वन विभाग का अमला आज एक बार फिर डिस्टिक फॉरेस्ट ऑफीसर रविंद्र मणि त्रिपाठी अपनी टीम के साथ रामपुर नयागांव पहुंचे। खास बात यह है कि तेंदुए को पकड़ने के लिए कान्हा से आई विशेषज्ञ की टीम भी डीएफओ के साथ थी।

हालांकि, आज भी वन विभाग को ना ही तेंदुए की आहट मिली और ना ही उसके पग मार्क। इधर वन विभाग ने नया गांव के तेंदुए को पकड़ने के लिए चार पिंजरे लगाए हैं।कान्हा से तेंदूए का रेस्क्यू करने आई विशेषज्ञ टीम के प्रभारी ने बताया कि आज दिन भर नयागांव और रामपुर से लगे जंगलों में तेंदुए की सर्चिंग की गई है पर वह नहीं मिला। इधर डीएफओ रवींद्र मणि त्रिपाठी का कहना है कि रामपुर और नयागांव काफी संवेदनशील इलाका है लिहाजा वन विभाग की टीम को 24 घंटे के लिए अलर्ट किया गया है। इसके अलावा रामपुर नयागांव में चार और पिंजरे लगाए गए हैं साथ ही एक पिंजरे को आज रात लगाया जाएगा। वन विभाग के अधिकारी रविंद्र मणि त्रिपाठी ने उम्मीद जताई है कि जल्द ही तेंदुए को पकड़ कर लिया जाएगा। हम आपको बता दें कि जबलपुर के करीब 6 क्षेत्रों में लगातार तेंदुए की सुगबुगाहट देखी जा रही है बावजूद इसके 1 माह से ज्यादा बीत चुका है पर वन विभाग के हाथ पूरी तरह से अभी भी खाली हैं।