जबलपुर मेडिकल कालेज की छात्रा को मौत के घाट उतारने वाले ट्रक चालक का अब तक कोई सुराग नहीं

दो दिन पहले जबलपुर के मेडिकल कालेज के दो बाइक सवार छात्र छात्राओं को 14 चक्के ट्रक ने टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बाइक में पीछे बैठी छात्रा रूबी ठाकुर ट्रक के चक्के के चपेट में आ गई और 50 मीटर तक घिसटती हुई चली गई।

Jabalpur Medical Student Accident : जबलपुर में नेताजी सुभाष चंद्र बोस मेडिकल कॉलेज की एमबीबीएस की छात्रा को मौत के घाट उतारने वाले ट्रक चालक को अब तक पुलिस गिरफ्तार नहीं कर पाई है, पुलिस अब तक ट्रक नंबर का भी कोई सुराग नहीं निकाल पाई है। गौरतलब है, दो दिन पहले जबलपुर के मेडिकल कालेज के दो बाइक सवार छात्र छात्राओं को 14 चक्के ट्रक ने टक्कर मार दी। टक्कर इतनी जोरदार थी कि बाइक में पीछे बैठी छात्रा रूबी ठाकुर ट्रक के चक्के के चपेट में आ गई और 50 मीटर तक घिसटती हुई चली गई। छात्रा रूबी की मौके पर ही मौत हो गई थी। वही बाइक चला रहा छात्र सौरभ ओझा बेहोशी की हालत में इलाज के लिए मेडिकल सुपर स्पेशलिटी हॉस्पिटल लाया गया था, हालांकि अब उसकी हालत बेहतर है लेकिन फिलहाल वह सदमे की स्थिति में है।

अब तक आरोपी का कोई सुराग नहीं 

घटना के बाद से ही छात्रा के परिजन सदमे में है, शहडोल की रहने वाली रूबी जबलपुर मेडिकल कालेज से एमबीबीएस कर रही थी, घटना के दिन रूबी अपने अन्य साथियों के साथ खाना खाने ढाबे में गई थी, तभी रात में लौटते समय अंधमूक बाइपास के पास एक ट्रक ने मोटरसाइकिल को टक्कर मार दी, रूबी इस मोटरसाइकिल पर अपने साथी सौरभ के साथ बैठी थी, ट्रक से टक्कर लगते ही रूबी नीचे आ गिरी और ट्रक उसे घसीटता हुआ आगे निकल गया, मौके पर मौजूद लोगों की माने तो टक्कर के बाद रूबी को घसीटते हुए ट्रक चालक तेज गति से फरार हो गया, इस दौरान रूबी का शरीर ट्रक में फँसकर क्षत-विक्षत  हो गया। पुलिस टीम हालांकि ट्रक चालक का सुराग लगाने में जुटी है लेकिन घटना के 72 घंटे बाद भी पुलिस के हाथ खाली है वही मेडिकल छात्रों ने पुलिस से इस मामलें में जल्द ही आरोपी चालक को गिरफ्तार करने की मांग की है।