सरेराह युवती से छेड़छाड़-मारपीट, CCTV में वीडियो रिकॉर्ड लेकिन पुलिस ने की सिर्फ खानापूर्ति

जबलपुर, संदीप कुमार। रांझी पुलिस की निष्क्रियता के चलते खुलेआम नशे के सौदागर द्वारा घर लौट रही युवती से पहले तो सरेराह छेड़छाड़ (molestation and beaten) की गई और जब युवती ने इसका विरोध किया तो बदमाशों ने उसके साथ मारपीट कर दी। पीड़ित युवती ने इसकी शिकायत रांझी थाना पुलिस से की तो पुलिस ने भी एफआईआर दर्ज कर खानापूर्ति कर दी। इधर बदमाशों से डरी युवती ने सीएम हेल्पलाइन में भी शिकायत की, फिर भी उसे इंसाफ नहीं मिला।

खुलेआम होता है नशा, दहशत में रहती हैं लड़कियां
दर्शल रांझी थानान्तर्गत गणेशगंज स्कूल के खुलेआम नशा होता है। वहाँ रहने वाले बदमाश जो कि अवैध काम में भी लिप्त रहते हैं, शाम होते ही नशे में धुत होकर आने-जाने वाली युवतियों के साथ छेड़छाड़ करते हैं। हाल ही में एक युवती और उसकी बहन के साथ छेड़छाड़ की घटना हुई और उन्होने विरोध किया तो बदमाशों ने युवती के साथ सरेराह मारपीट करना शुरू कर दी। युवती के परिजन उन्हें बचाने आये तो बदमाशों ने उनके साथ भी मारपीट की। पूरी घटना का वीडियो सीसीटीवी (cctv) फुटेज भी अब सामने आया है।

शिकायत के बाद भी पुलिस ने नहीं लिया एक्शन
पीड़ित युवती ने क्षेत्र के बदमाश अमन बेन,आकाश चौधरी के खिलाफ छेड़छाड़ की शिकायत करवाई तो पुलिस ने आरोपियो के खिलाफ मामूली धाराएं लगाकर मामले को रफा दफा कर दिया। पीड़िता का कहना है कि उसने सीएम हेल्पलाइन (CM helpline) में भी शिकायत की, लेकिन तब भी उसे इंसाफ नहीं मिला है।

पीड़ित युवती पहुँची एसपी आफिस, यहां भी मिला सिर्फ आश्वासन
कभी रांझी थाने तो कभी सीएम हेल्पलाइन में शिकायत के बाद भी जब युवती को राहत नही मिली तो वो सोमवार को एसपी से मिलने पहुँची, जहाँ डीएसपी तुषार सिंह का कहना था कि आरोपियों के खिलाफ कार्यवाही की जा रही है।

एक तरफ मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान (cm shivraj singh chouhan) प्रदेश की बच्चियों को अपनी भांजी कहते हैं  और उनका कहना है कि किसी स्थिति में लड़कियों महिलाओं के साथ होने वाला अन्याय बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। लेकिन अफसरशाही तक शायद उनका ये संदेश पहुंचा नहीं है, यही वजह है कि सीसीटीवी फुटेज में साफ तौर पर सारी घटना दर्ज हो जाने के बावजूद इस मामले में अब तक पीड़िता को न्याय नहीं मिल पाया है।